मसूद अजहर के अंतरराष्ट्रीय आंतकी घोषित होते ही पाकिस्तान ने भी घुटने टेके

संयुक्त राष्ट्र के फैसले के तुरंत बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने जैश सरगना पर फौरन प्रतिबंध लगाने की बात कही.

नई दिल्ली: जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर को जैसे ही संयुक्त राष्ट्र में अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित किया गया, वैसे ही पाकिस्तान ने उसके खिलाफ सख्त कदम उठाने के संकेत दिए. यूएन के फैसले के तुरंत बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने जैश सरगना पर फौरन प्रतिबंध लगाने की बात कही.

डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने पुष्टि की कि “पाकिस्तान तुरंत जैश-ए-मोहम्मद सरगना पर लगाए गए प्रतिबंधों को लागू करेगा जैसा कि वह हमेशा संयुक्त राष्ट्र के मामलों के साथ करता है.” इसी के साथ उन्होंने कहा कि पाकिस्तान मसूद अजहर की संपत्तियों को सीज करेगा और उसकी विदेश यात्राओं पर भी प्रतिबंध लगाएगा. साथ ही उन्होंने मसूद के हथियारों पर भी प्रतिबंध लगाने की बात कही.

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता फैसल ने कहा कि “UNSC 1267 प्रतिबंध समिति की लिस्ट स्पष्ट नियमों के तहत काम करती है और इसके फैसले सर्वसम्मति से लिए जाते हैं. पाकिस्तान ने हमेशा इन तकनीकी नियमों का सम्मान करने की आवश्यकता की वकालत की है और समिति के राजनीतिकरण का विरोध किया है.”

मालूम हो कि भारत पिछले काफी समय से जैश सरगना को अतंरराष्ट्रीय आतंकी घोषित करने के लिए दवाब बनाता रहा है. पिछले दिनों फरवरी महीने में पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद एक बार फिर भारत ने यह मामला यूएन में रखा था. इसके बाद बुधवार को मसूद अजहर को अतंरराष्ट्रीय आतंकवादियों की सूची में शामिल कर लिया गया.

ये भी पढ़ें: मसूद अजहर ग्लोबल टेररिस्ट घोषित, संयुक्त राष्ट्र में भारत को बड़ी सफलता

ये भी पढ़ें: और झुक गया चीन! पाकिस्‍तान की चाल पर यूं भारी पड़ गया मोदी का पैंतरा