पाकिस्तान ने भारत और PM मोदी के खिलाफ छेड़ा Cyber War, सुरक्षा एजेंसियों को मिले सबूत

सुरक्षा एजेसिंयों (Security Agencies) ने बताया कि सोशल मीडिया पर इस तरह से ढेर सारे मैसेज फैलाए जा रहे हैं जिनसे भारत-विरोधी भावना पैदा हो सके. इसके पीछे पाकिस्तान का हाथ होने के सबूत मिले हैं.

  • TV9.com
  • Publish Date - 11:16 am, Thu, 23 April 20
Imran-khan-Pakistan
Imran-khan-Pakistan

पाकिस्तान (Pakistan) इन दिनों भारत (India) और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के खिलाफ साइबर युद्ध (Cyber War) करने में जुटा हुआ है. भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को इस बात के सबूत मिले हैं कि सोशल मीडिया पर भारत और पीएम मोदी को लेकर कई गलत मैसेज फैलाए जा रहे हैं जिनके पीछे पाकिस्तान का हाथ है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, सुरक्षा एजेंसियों की ओर से बुधवार को सरकार को इस बात की जानकारी दी गई. एजेसिंयों ने बताया कि सोशल मीडिया पर इस तरह से ढेर सारे मैसेज फैलाए जा रहे हैं जिनसे भारत-विरोधी भावना पैदा हो सके.

‘खाड़ी देशों ‘ में PAK कर रहा भारत को बदनाम

भारत-विरोधी मैसेज ‘खाड़ी देशों ‘ में खासतौर से फैलाए जा रहे हैं. भारत में इस्लामोफोबियो होने की झूठी बात प्रोपेगेंडा के तौर पर फैलाई जा रही है. इसके पीछे ‘खाड़ी देशों’ में भारत की छवि खराब करने का मकसद है.

पीएम मोदी के नेतृत्व में ‘खाड़ी देशों’ के साथ देश के रिश्ते काफी मजबूत हुए हैं. पाकिस्तान अब पीएम मोदी पर निशाना साधकर इस रिश्ते को कमजोर करना चाहता है. इसके लिए पड़ोसी मुल्क पीएम मोदी को लेकर कई झूठे और नेगेटिव मैसेज फैला रहा है.

रिपोर्ट के मुताबिक, यह पहला मौका नहीं है जब भारत के खिलाफ पाकिस्तान झूठे मैसेज फैलाने में लगा हुआ है. इससे पहले जम्मू-कश्मीर को लेकर भी पाकिस्तान अन्य देशों में सोशल मीडिया के जरिए प्रोपेगेंडा फैला चुका है.

निगरानी सूची से 4000 आतंकवादियों के नाम हटाए

इस बीच पाकिस्तान ने अपनी निगरानी सूची से करीब 4,000 आतंकवादियों के नामों को हटा दिया है. इस सूची से उन लोगों के नाम भी हटाए गए हैं, जो 2008 के मुंबई आतंकवादी हमलों के प्रमुख योजनाकार थे. एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) स्टार्टअप ने इस बात का खुलासा किया है.

भारत और दुनिया के अन्य कई हिस्सों में पाकिस्तान अपने आतंकवादियों को हमले के लिए भेजता रहा है. इस मामले में उसका पुराना इतिहास रहा है. इसी वजह से आतंकी फंडिंग के लिए वैश्विक निगरानी संस्था फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (AFTF) ने पाकिस्तान को ग्रे सूची में रखा है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे