करतारपुर के बहाने साजिश रच रहा पाकिस्‍तान, लिखा- भारत ने यहां बरसाए थे बम

नोटिस बोर्ड में कहा गया कि 'भारतीय वायुसेना का बम श्री खू साहिब (पवित्र कुआं) और दरबार साहिब पर गिरा था, लेकिन कोई नुकसान नहीं हुआ.'

करतारपुर कॉरिडोर के बहाने पाकिस्तान लगातार भारत के खिलाफ दुष्प्रचार करने में लगा हुआ है. पाकिस्तान भारत सहित दुनिया के दूसरे हिस्‍सों में मौजूद सिखों की भावनाओं को भड़काने की कोशिश कर रहा है. उसने दरबार साहिब परिसर में ऐसे भड़काऊ पोस्‍ट लगाए हैं, जिनमें आरोप लगाया गया है कि भारत ने इस पवित्र गुरुद्वारे पर बम गिराए थे.

तेजिंदर सिंह बग्गा ने शेयर की तस्वीर
भाजपा नेता तेजिंदर सिंह बग्गा ने एक तस्वीर के साथ दावा किया है कि पाकिस्तान कैसे भारत के खिलाफ दुष्प्रचार कर रहा है. बीजेपी नेता तेजिंदर सिंह बग्गा ने ट्विटर पर एक तस्वीर शेयर की है. उनके मुताबिक, यह तस्वीर पाकिस्तान में स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब श्री करतारपुर साहिब की है.

तेजिंदर सिंह बग्गा की ओर से शेयर तस्वीर के मुताबिक गुरुद्वारा परिसर में एक बोर्ड लगाया गया है, जिसमें वाहेगुरु जी का चमत्कार लिखा गया है. इसमें दावा किया गया है कि 1971 में भारतीय वायुसेना ने गुरुद्वारा दरबार साहिब श्री करतारपुर साहिब पर बमबारी की थी. हालांकि, वाहे गुरुजी की कृपा से गुरुद्वारे को कोई नुकसान नहीं पहुंचा.

‘दरबार साहिब पर गिरा था बम’
पाकिस्तान द्वारा लगाए गए इस नोटिस बोर्ड में कहा गया कि ‘भारतीय वायुसेना का बम श्री खू साहिब (पवित्र कुआं) और दरबार साहिब पर गिरा था, लेकिन कोई नुकसान नहीं हुआ. यह वही पवित्र कुआं है, जहां से अपनी खेतों की सिंचाई के लिए श्री गुरु नानक देव जी पानी लेते थे.’

बता दें कि 1971 में भारत और पाकिस्‍तान के बीच बांग्‍लादेश को लेकर युद्ध हुआ था. इसमें पाकिस्‍तानी सैनिकों ने भारत के सामने घुटने टेक दिए थे. पाकिस्तान इसकी टीस आज तक नहीं मिटा पाया है. अब पाकिस्तान ने भारतीय सेना पर आरोप लगाया है कि 1971 में भारत ने यहां पर बम गिराए थे.

भारतीय सीमा से 4 किमी की दूरी पर दरबार साहिब गुरुद्वारा
दरबार साहिब गुरुद्वारा भारतीय सीमा से करीब चार किलोमीटर के फासले पर पाकिस्तान में है. यहां तक करतारपुर साहिब कॉरिडोर से होकर श्रद्धालु पहुंचेंगे. माना जाता है कि यह गुरुद्वारा उस स्थान पर स्थित है जहां सोलहवीं सदी में बाबा गुरु नानक की मृत्यु हुई थी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नौ नवंबर को करतारपुर गलियारे का उद्घाटन करेंगे. बाबा गुरु नानक के 12 नवंबर को पड़ने वाले 550वें प्रकाशोत्सव के अवसर पर श्रद्धालुओं के पहले जत्थे को इस गलियारे के रास्ते दरबार साहिब गुरुद्वारे के लिए विदा करेंगे.

ये भी पढ़ें-

यूपी: केसरिया रंग में रंगी बिल्डिंग को मंदिर समझ पूजते रहे लोग, निकला शौचालय

मायावती का बड़ा फैसला, गेस्ट हाउस कांड में मुलायम सिंह यादव के खिलाफ केस लिया वापस

संजय राउत बोले- दिल्ली के आगे नहीं झुकेगा महाराष्ट्र, मुंबई जा रहे ‘संकटमोचक’ गडकरी