फेक न्यूज फैलाने वाले अकाउंट्स को डिलीट करने के खिलाफ पाकिस्तान पहुंचा ट्विटर के पास

पाकिस्तान अब सोशल नेटवर्किंग कंपनी ट्विटर और फेसबुक के पास कश्मीर से जुड़े अकाउंट को रद्द करने का मामला उठा रहा है.

जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के बाद से बौखलाया पाकिस्तान इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र, आईओसी समते कई संस्थाओं में उठा रहा है. अब वह एक नई तरकीब भारत के खिलाफ अपनाने वाला है. पाकिस्तान अब सोशल नेटवर्किंग कंपनी ट्विटर और फेसबुक के पास कश्मीर से जुड़े अकाउंट को रद्द करने का मामला उठा रहा है.

पाकिस्तानी ने ट्विटर और फेसबुक के सामने कश्मीर से जुड़े ट्विटर अकाउंट रद्द करने को लेकर आपत्ति जताई है. मालूम हो कि ट्विटर और फेसबुक जैसी सोशल मीडिया साइट्स ने कश्मीर से जुड़े विवादित पोस्ट को लेकर अकाउंट्स को डिलीट कर दिया था.

पाकिस्तानी अखबार डॉन के सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर के हवाले से कहा, “पाकिस्तानी अधिकारियों ने ट्विटर और फेसबुक के सामने उन पाकिस्तान अकाउंट्स को रद्द किए जाने का मसला उठाया, जिनके जरिए कश्मीर के समर्थन में मैसेज पोस्ट किए जाते हैं.”

मालूम हो कि जम्मू कश्मीर के हालात को लेकर झूठी खबरें फैला रहे इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (आईएसआई) और पाकिस्तानी सेना द्वारा चलाए जा रहे चार ट्विटर हैंडल को माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म ने यह कहते हुए बंद कर दिया कि वह व्यक्तिगत अकाउंट्स को हटाने पर टिप्पणी नहीं करता.

सूत्रों ने बताया कि इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के आदेश पर ट्विटर ने इन चार दुर्भावनापूर्ण अकाउंट्स को बंद कर दिया है और साथ ही अन्य चार को निलंबित करने की तैयारी में है.

ये भी पढ़ें: “रास्ते से भटक गई है कांग्रेस, मैं राष्ट्रवाद से नहीं करता समझौता”, भूपेंद्र हुड्डा ने बोला हमला