निकल गई पाकिस्तान की हेकड़ी, भारत से आयात करेगा दवाइयां

पाकिस्तान भारत से कपास, जैविक रसायन, प्लास्टिक प्रोडक्ट, शक्कर, कॉफ़ी, अनाज, चाय, लोहे और स्टील के सामन, तांबा और दवाएं आयत करता है.

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 में बदलाव किए जाने के बाद पाकिस्तान ने बौखलाहट में आकर भारत के साथ व्यापार रोक दिया था. हालांकि इस फैसले के कुछ दिन बाद ही पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था ने दम तोड़ दिया. पाक में महंगाई चरम पर पहुंच गई है. पाकिस्तान के वाणिज्य मंत्रालय ने ऐलान ने जीवन रक्षक दवाओं  की कमी के चलते भारत के साथ आंशिक व्यापार को बहाल कर दिया है.

पाकिस्तान को दवाइयों की कमी के चलते मजबूरी में आकर भारत से दवाइयां आयात करने का फैसला लिया है.

बता दें कि पाकिस्तान बड़ी तादाद में भारत से दवाएं आयात करता है. सांप और कुत्तों के जहर से बचाने वाली दवाओं से लेकर गंभीर बीमारियों से बचाव के लिए पाकिस्तान भारत पर निर्भर है. एक रिपोर्ट के मुताबिक करीब 16 महीनों में पाकिस्तान ने भारत से लगभग 250 करोड़ रुपये के रेबीज और विषरोधी पाइजनस टीके खरीदे गए.

भारत से आयत

पाकिस्तान भारत से कपास, जैविक रसायन, प्लास्टिक प्रोडक्ट, शक्कर, कॉफ़ी, अनाज, चाय, लोहे और स्टील के सामन, तांबा और दवाएं आयत करता है.

भारत को निर्यात

पाकिस्तान भारत को समुद्री सामान, प्लास्टिक, मसाले, ऊन, रबड़ उत्पाद, ताजे फल, सीमेंट, खनिज और अयस्क, तैयार चमड़ा, प्रसंस्कृत खाद्य, अकार्बनिक रसायन, कच्चा कपास, अल्कोहल पेय, चिकित्सा उपकरण, डाई और खेल का सामान निर्यात करता था.

एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2017-18 में भारत और पाकिस्तान के बीच 2.4 अरब डॉलर का व्यापार हुआ, जो भारत कुल व्यापार का सिर्फ 0.31 फीसदी और पाकिस्तान के ग्लोबल ट्रेड का 3.2 पर्सेंट हिस्सा था.

ये भी पढ़ें- बाबरी मस्जिद मामले में पक्षकार इकबाल अंसारी पर हमला, इंटरनेशनल शूटर पर आरोप