पाकिस्तान ने शाहीन मिसाइल से दी प्रधानमंत्री मोदी को ‘सलामी’

पाकिस्तानी सेना की मीडिया विंग ने एक बयान में कहा, "मिसाइल का परीक्षण करने का मकसद सेना की रणनीतिक बल कमान की सैन्य तत्परता को सुनिश्चित करना है.

नई दिल्ली: पाकिस्तान ने गुरुवार को जमीन से जमीन पर मार करने वाली बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन-2 के परीक्षण की घोषणा की. यह मिसाइल 1,500 किलोमीटर तक परंपरागत और परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम है.

पाकिस्तानी सेना की मीडिया विंग इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) ने एक बयान में कहा, “परीक्षण करने का मकसद सेना की रणनीतिक बल कमान की सैन्य तत्परता को सुनिश्चित करना है. शाहीन-2 मिसाइल परंपरागत और परमाणु दोनों प्रकार के हथियारों को 1,500 किलोमीटर की मारक क्षमता में पहुंचाने में सक्षम है.”

यह परीक्षण भारत द्वारा ब्रह्मोस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के हवाई वर्जन को दूसरा परीक्षण शुरू करने के एक दिन बाद किया गया है. उसका कहना है कि शाहीन-2 काफी सक्षम मिसाइल है. जिससे क्षेत्र में वांछित निवारण क्षमता को बनाए रखने के लिए पाकिस्तान की रणनीतिक जरूरतें पूरी होती है. पाकिस्तानी अखबार डॉन ने आईएसपीआर के हवाले से कहा कि लांच पैड का प्रभाव अरब सागर में देखा गया.

गौरतलब है कि गुरुवार को भारत में लोकसभा चुनावों की मतगणना चल रही है. मतगणना के शुरुआती रुझानों में प्रधानमंत्री मोदी की भारतीय जनता पार्टी एक बार फिर भारी बहुमत के साथ सत्ता में आती हुई दिख रही है.

ये भी पढ़ें: विदेशी मुल्कों के राष्ट्राध्यक्षों ने पीएम मोदी को दी बधाई, बेंजामिन नेतन्याहू ने हिंदी में लिखकर दी शुभकामनाएं