फरवरी 2020 तक FATF की ग्रे लिस्ट में बना रहेगा पाकिस्तान, वित्त मंत्री ने खारिज किए दावे

पाकिस्तान के वित्त मंत्री उमर खान ने पाकिस्तान के ग्रे लिस्ट में बने रहने की रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा कि अक्टूबर 18 से पहले कुछ भी कहना सही नहीं होगा.
FATF, फरवरी 2020 तक FATF की ग्रे लिस्ट में बना रहेगा पाकिस्तान, वित्त मंत्री ने खारिज किए दावे

मीडीया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) ने पाकिस्तान को फरवरी 2020 तक ग्रे लिस्ट में ही रखा है. उम्मीद की जा रही थी कि आतंकवाद पर कार्रवाई न करने पर उसे ब्लैक लिस्ट में डाल दिया जाएगा. हालांकि उसे थोड़ा समय और दिया गया है. साथ ही पाकिस्तान को आतंकवाद को हो रही फंडिंग रोकने के लिए अधिकय प्रयास करने के लिए भी कहा गया है.

मालूम हो कि FATF एक इंटर-गवर्नमेंट बॉडी है, जिसका मनी लॉन्ड्रिंग, टेरर फंडिंग और टेरर फाइनेंशिंग रोकने के लिए साल 1989 में गठन किया गया था. मंगलवार को इस टास्क फोर्स की पेरिस में बैठक हुई थी. जिसमें पाकिस्तान द्वारा आतंवाद की फंडिंग रोके जाने को लेकर किए गए प्रयासों की समीक्षा की गई.

इस बैठक में फैसला लिया गया कि टास्क फोर्स फरवरी 2020 में पाकिस्तान की स्थिति पर अंतिम निर्णय लेगी. तब तक पाकिस्तान को आंतकी फंडिंग रोकने के लिए अधिक प्रयास करने की सलाह दी गई. इस मामले पर औपचारिक घोषणा शुक्रवार को की जाएगी, उसी दिन FATF का मौजूदा सत्र खत्म हो रहा है.

हालांकि पाकिस्तान के वित्त मंत्री उमर खान ने पाकिस्तान के ग्रे लिस्ट में बने रहने की रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा कि अक्टूबर 18 से पहले कुछ भी कहना सही नहीं होगा. मालूम हो कि FATF के पिछले सत्र में पाकिस्तान को 27 पॉइंट्स पर काम कर आतंकी फंडिंग रोकने के लिए कहा था. पिछले दिनों आई रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्तान इनमें से सिर्फ 6 पॉइंट्स पर ही काम कर सका है.

ये भी पढ़ें: कभी मुंबई में बेचा करते थे गोलगप्पे, आज सबसे कम उम्र में दोहरा शतक लगाने का बनाया रिकॉर्ड

Related Posts