पाकिस्तानी राजदूत ने चीनी अखबार में J&K पर बांधा झूठ का पुलिंदा, भारतीय दूतावास ने दिया मुंहतोड़ जवाब

चीन (China) में भारतीय दूतावास ने जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) पर झूठ बोलने के लिए चीन में पाकिस्तानी राजदूत मोइन-उल-हक (Moin ul Haque) को फटकार लगाई है.
Pakistani ambassador bundle of lies on J&K, पाकिस्तानी राजदूत ने चीनी अखबार में J&K पर बांधा झूठ का पुलिंदा, भारतीय दूतावास ने दिया मुंहतोड़ जवाब

भारत ने गुरुवार को जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) पर झूठ बोलने के लिए चीन में पाकिस्तानी राजदूत मोइन-उल-हक (Moin ul Haque) को फटकार लगाई है. साथ ही भारत ने कहा कि पाकिस्तान (Pakistan) की तरफ से भेजे गए आतंकवादियों ने केंद्र शासित प्रदेश में शांति और व्यवस्था को बिगाड़ दिया है, जो कि भारत का अभिन्न अंग है.

चीन में भारतीय दूतावास ने कहा, “जम्मू-कश्मीर में शांति, स्थिरता और प्रगति लाने के लिए भारत के प्रयास पाकिस्तान (Pakistan) की सीमा पार आतंकवादी भेजने और आतंकी अभियान चलाने की रणनीति के विपरीत है.”

चीन दे रहा पाक की नापाक हरकतों का साथ

दरअसल भारतीय दूतावास ने 7 अगस्त को चीन (China) के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स में छपे एक लेख, ‘अर्जेंट एक्शन एक्शन ऑन जम्मू एंड कश्मीर नीडेड’ के जवाब में यह बयान दिया है.

जम्मू-कश्मीर पर हमेशा झूठ का सहारा लेता है पाकिस्तान

अपने बयान में दूतावास ने कहा, “पाकिस्तानी राजदूत हक ने केंद्र शासित प्रदेश जम्मू और कश्मीर पर एक फिर से झूठ का सहारा लिया है. जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और जिनके मामले भारत के आंतरिक मामले हैं. इसमें पाकिस्तान या किसी अन्य देश का कोई हस्तक्षेप नहीं है.”

“पाकिस्तानी राजदूत की गलतबयानी से हमें हैरानी नहीं”

भारतीय दूतावास ने आगे कहा कि पाकिस्तानी राजदूत की गलतबयानी से हमें हैरानी नहीं हुई है. जम्मू और कश्मीर से 5 अगस्त 2019 को अनुच्छेद 370 के खात्मे के बाद से महत्वपूर्ण प्रगति की है और इसे छिपाया नहीं जा सकता है.

ग्लोबल टाइम्स ने रिपोर्ट में नहीं रखा भारत का पक्ष

इतना ही नहीं भारतीय दूतावास ने ग्लोबल टाइम्स को टैग करते हुए ट्वीट किया और लिखा, “ग्लोबल टाइम्स ने अपनी इस रिपोर्ट भारतीय दूतावास का पक्ष रखना सही नहीं समझा. इसलिए आप हमारा पक्ष यहां पढ़ सकते हैं.”

पाकिस्तान की हरकतों का भांडाफोड़

दूतावास ने कहा कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मरी में शांति, स्थिरता और विकास को लाने के प्रयासों को बाधित कर रहा है. पाकिस्तान सीमा पार से आतंकवाद के जरिए इस इलाके में अशांति फैलाने की कोशिश कर रहा है. इसके अलावा पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर 2020 के शुरुआती सात महीनों में 3000 से ज्यादा बार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर आतंकियों के घुसपैठ के लिए रास्ता मुहैया कराया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts