PAK के परमाणु आयोग को उपकरण बेचने के आरोप में पाकिस्तानी-अमेरिकी नागरिक गिरफ्तार

ओबैदुल्ला सैयद को 16 सितंबर को गिरफ्तार किया गया है. अगर ओबैदुल्ला पर लगे आरोप कोर्ट में साबित हो जाते हैं तो उसे 20 साल तक की सजा हो सकती है.

  • TV9 Digital
  • Publish Date - 4:38 pm, Wed, 23 September 20
प्रतीकात्मक

एक 65 वर्षीय पाकिस्तानी-अमेरिकी शख्स को अमेरिका से पाकिस्तान परमाणु ऊर्जा आयोग (PAEC) को बिना सरकारी इजाजत के हाई परफॉर्मेंस वाले कंप्यूटर उपकरण और सॉफ्टवेयर निर्यात करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. जानकारी के मुताबिक ओबैदुल्ला सैयद नाम का ये शख्स पाकिस्तान स्थित बिजनेस सिस्टम इंटरनेशन प्राइवेट लिमिटेड और शिकागो स्थित BSI USA का मालिक है.

ओबैदुल्ला सैयद को 16 सितंबर को गिरफ्तार किया गया है. अगर ओबैदुल्ला पर लगे आरोप कोर्ट में साबित हो जाते हैं तो उसे 20 साल तक की सजा हो सकती है. फिलहाल वो फेडरल कस्टडी में है. फेडरल प्रॉसिक्यूटर के मुताबिक सैयद की दोनों कंपनियां हाई परफोर्मेंस कम्प्यूटिंग प्लेटफॉर्म, सर्वर और सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन सॉल्यूसन उपलब्ध कराती हैं.

आरोप के मुताबिक साल 2006 से 2015 तक सैयद और BSI ने पाकिस्तान में कंपनी के कर्मचारियों के साथ मिलकर साजिश रची और अंतरराष्ट्रीय आपातकालीन आर्थिक शक्ती अधिनियम का उल्लंघन करते हुए बिना अमेरिकी वाणिज्य विभाग की इजाजत लिए अमेरिका से कंप्यूटर उपकरणों का निर्यात पाकिस्तान परमाणु ऊर्जा आयोग (PAEC) को किया.

पाकिस्तान परमाणु ऊर्जा आयोग एक पाकिस्तानी सरकारी एजेंसी है जो “विस्फोटक और परमाणु हथियारों के उपकरण बनाने, यूरेनियम के खनन और संवर्धन और ठोस ईंधन वाली बैलिस्टिक मिसाइलों के डिजाइन, निर्माण और परीक्षण के लिए जिम्मेदार होती है.”