पाकिस्तानी ड्राइवर ने लौटाया हिंदुस्तानी लड़की का खोया हुआ बटुआ

लैंकेस्टर यूनिवर्सिटी में कॉरपोरेट लॉ की छात्रा रेचल रोज़ अपने दोस्त के जन्मदिन में शामिल होने के लिए जा रहा थी और रास्ते में उसका बटुआ खो गया.

एक पाकिस्तानी ड्राइवर ने हिंदुस्तानी लड़की को बड़ी मुसीबत में फंसने से बचा लिया. टैक्सी ड्राइवर ने दुबई में एक भारतीय लड़की का खोया हुआ बटुआ लौटा दिया. इस बटुए में छात्रा का ब्रिटेन का वीजा था. सर्दी के छुट्टियां खत्म होने में तीन दिन ही बचे थे जबकि लड़की को ब्रिटेन वापस लौटना था.

लैंकेस्टर यूनिवर्सिटी में कॉरपोरेट लॉ की छात्रा रेचल रोज़ अपने दोस्त के जन्मदिन में शामिल होने के लिए जा रहा थी और रास्ते में उसका बटुआ खो गया. रेचल ने 4 जनवरी को मोदासर खादिम की टैक्सी में वॉलेट खो दिया और 8 जनवरी को मैनचेस्टर चली गई.

एक रिपोर्ट के मुताबिक उसकी मां सिंधु बीजू ने बताया कि वह 4 जनवरी की शाम 7.30 बजे बुर्जुमन के पास एक टैक्सी में बैठी थी. तभी उन्होंने एक और दूसरी टैक्सी में देखा. रेचल ने टैक्सी बदलकर अपने दोस्त की टैक्सी में जाने का फैसला किया. उन्होंने अपनी टैक्सी छोड़ दी. जल्दबाजी में उन्होंने ध्यान नहीं दिया कि उनका बटुआ टैक्सी में ही छूट गया है.

रेचल के बटुए में कई जरूरी चीजें थी जिसके ना मिलने पर वो मुसीबत में फंस सकती थी. बटुए में उनका यूके निवास परमिट कार्ड, अमीरात आईडी, संयुक्त अरब अमीरात ड्राइविंग लाइसेंस, क्रेडिट कार्ड और 1,000 से ज्यादा के दिरहम थे.

दो ट्रिप खत्म हो जाने के बाद खादिम ने बटुआ देखा. खादिम ने कांटेक्ट नंबर ढूंढने के लिए बटुआ खोला. बटुए में उन्हे कैश और अलग अलग कार्ड ही मिले. उन्होंने रोड्स एंड ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी की मदद से बटुआ रेचल के घर छोड़ दिया.