कश्‍मीर मामले को तूल देने गए थे पाकिस्‍तानी नेता, लंदन में पड़े जूते और अंडे

PoK में इमरान खान की पार्टी PTI के अध्‍यक्ष बैरिस्‍टर सुल्‍तान खान भी यहां आए थे. उनके साथ 35-40 बॉडीगार्ड्स थे, मगर उनके स्‍वागत में अंडे और जूते बरसने लगे.

कश्‍मीर मामले को इंटरनेशनली हाईलाइट करने की कोशिश में लगे पाकिस्‍तान को हर तरफ मुंह की खानी पड़ रही है. लंदन में कई पाकिस्‍तानी नेता भारत विरोधी आवाजों को हवा देने पहुंचे तो प्रदर्शनकारियों ने जूतों और अंडों से हमला कर दिया. कश्‍मीरी प्रदर्शनकारियों ने कहा कि पाकिस्‍तान उनके प्‍लैटफॉर्म को हाइजैक करना चाहता है.

अलगाववादी नेता यासीन मलिक के जम्‍मू-कश्‍मीर लिबरेशन फ्रंट (JKLF) ने ‘कश्‍मीर फ्रीडम मार्च’ आयोजित किया था. इसमें करीब 10 हजार कश्‍मीरी, ब्रिटिश पाकिस्‍तानी और खालिस्‍तान समर्थक मौजूद रहे. इस मार्च में जम्मू-कश्मीर नेशनल अवामी पार्टी, यूके और जम्मू-कश्मीर नेशनल स्टूडेंट्स फेडरेशन ने भी हिस्‍सा लिया, मगर पाकिस्‍तानी नेताओं को देखकर वे भड़क गए.

पाकिस्‍तानी नेताओं का भाषण रोकने को जूते और अंडे बरसाए गए. PoK में इमरान खान की पार्टी पाकिस्‍तान तहरीक-ए-इंसाफ के अध्‍यक्ष बैरिस्‍टर सुल्‍तान खान भी यहां आए थे. उनके साथ 35-40 बॉडीगार्ड्स थे, मगर उनके स्‍वागत में अंडे और जूते बरसने लगे.

कश्‍मीर मामले को उठाने के लिए मंगलवार को हजारों की संख्या में ब्रिटिश पाकिस्तानियों ने लंदन में भारतीय उच्चायोग के बाहर प्रदर्शन किया और पाकिस्तान व आजाद कश्मीर के झंडे लहराए. प्रदर्शनकारियों ने भारत के खिलाफ नारे लगाए और आयोग की इमारत पर पत्थर व अंडे फेंके.

कश्मीर मार्च की अगुवाई कर रहे ब्रिटिश लेबर सांसद लियाम बायर्ने ने ट्वीट किया, “आज हजारों लोगों ने मिस्टर मोदी को स्पष्ट संदेश देने के लिए डॉउनिंग स्ट्रीट से भारतीय उच्चायोग तक मार्च किया कि -आप कश्मीर के लोगों की आवाज दबा नहीं सकते.”

ये भी पढ़ें

पॉर्न स्टार ने लिये अब्दुल बासित के मजे, कहा- ‘फॉलोअर्स बढ़ाने के लिए थैंक्यू’

कब तक बचेगा हाफिज सईद, मसूद अजहर, लखवी और दाऊद, भारत ने आतंकी सूची में डाला