PAK में ये सरेआम जपती है गायत्री मंत्र, दिनदहाड़े कहती है मैं हूं ‘योगीभक्त’

इस्लामाबाद 2017 में पाकिस्तान के कराची में आयोजित किए गए एक होली समारोह में गायत्री मंत्र का उच्चारण कर सभी को मंत्रमुग्ध करने वाली पाकिस्तानी हिंदू सिंगर नरोदा मालिनी अब भारत में भी काफी मशहूर हो गई हैं. इस कार्यक्रम के समय पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ भी वहां मौजूद थे. नरोदा द्वारा गाए […]

इस्लामाबाद

2017 में पाकिस्तान के कराची में आयोजित किए गए एक होली समारोह में गायत्री मंत्र का उच्चारण कर सभी को मंत्रमुग्ध करने वाली पाकिस्तानी हिंदू सिंगर नरोदा मालिनी अब भारत में भी काफी मशहूर हो गई हैं. इस कार्यक्रम के समय पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ भी वहां मौजूद थे. नरोदा द्वारा गाए गए गायत्री मंत्र की नवाज़ शरीफ ने भी काफी तारीफ़ की थी.

सिंध की रहने वाली नरोदा जब 11 साल की थीं तबसे ही उन्होंने गाना सीखना शुरू कर दिया था. उनके परिवार से कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं है जो कि सिंगिंग प्रोफेशन में हो. नरोदा ने पहली बार एक होली समारोह में गाना गाया था, जिसके बाद उसके मामा ने उसके घरवालों से कहा था कि उसे प्रोफेशनली सिंगिंग सिखाएं. नरोदा के उस्ताद का नाम गुलाम अब्बास है.

नरोदा हिंदी, उर्दू और पंजाबी में गाने गा सकती है. इसके अलावा वे लता मंगेशकर, नूर जहां और श्रेया घोषाल की बहुत बड़ी फैन हैं. नरोदा वही पाकिस्तानी सिंगर हैं जिन्होंने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के समय कहा था कि अगर योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बनते हैं तो उन्हें बहुत खुशी होगी. ऑनलाइन रिपोर्टों की माने तो नरोदा ने योगी की शान में कसीदे पढ़ते हुए यह भी कह दिया कि यदि वो भारत के पीएम बनते हैं तो उन्हें इंडिया की नागरिकता लेने में थोड़ी भी देर नहीं लगेगी.
2017 में एक कार्यक्रम के लिए नरोदा जब भारत आई थीं तो उन्होंने कहा था कि वे चाहती हैं कि भारत और पाकिस्तान के बीच अमन और चैन बना रहे. दोनों देशों के बीच संगीत के जरिए अमन कायम हो सकता है