पेंटागन का ऐलान, सऊदी अरब में तैनात होंगी पैट्रियट मिसाइलों से लैस 200 अमेरिकी सैन्य टुकड़ियां

सैन्य टुकड़ियां सऊदी अरब की सुरक्षा में पैट्रियट मिसाइलों के साथ तैनात होंगी.

अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन ने 200 सैन्य टुकड़ियां सऊदी अरब भेजने का ऐलान किया है. सैन्य टुकड़ियां सऊदी अरब की सुरक्षा में पैट्रियट मिसाइलों के साथ तैनात होंगी.

हवाई और मिसाइल सुरक्षा बढ़ेगी

पिछले महीने सऊदी अरब के दो तेल कुओं पर हमले के मद्देनजर वहां की सुरक्षा बढ़ाने की जरूरत महसूस करते हुए यह ऐलान किया गया है.
पेंटागन के प्रवक्ता जोनाथन हॉफमैन ने कहा कि इस तैनाती से किंगडम के संवेदनशील सैन्य एवं नागिरक संस्थानों की हवाई और मिसाइल सुरक्षा बढ़ेगी.

हमले के बाद उठाए जा रहे कदम 

बता दें कि 14 सितंबर को सऊदी अरब की तेल कंपनी अरामको के अबकैक और खुराइस स्थित तेल कुओं पर ड्रोन हमला हुआ था.

इस घटना के एक हफ्ते बाद अमेरिकी रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने कहा था कि सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के आग्रह पर अमेरिका खाड़ी क्षेत्र में अमेरिकी सुरक्षा बल भेजेगा. उन्होंने कहा था कि सऊदी अरब के तेल कुओं पर हमले के बाद यह कदम उठाए जा रहे हैं.

ईरान को ठहराया था जिम्मेदार 

इस हमले के लिए अमेरिका ने ईरान को जिम्मेदार ठहराया था. पेंटागन प्रमुख ने कहा था कि जून में अमेरिकी स्पाई ड्रोन पर हमला, ब्रिटेन के तल टैंकर को जब्त किया जाना और सऊदी के दो प्रतिष्ठानों पर हमला नाटकीय रूप से ईरान की बढ़ी हुए आक्रमकता को दिखाता है.

क्या है पैट्रियट मिसाइल

पैट्रियट सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल है. यह मिसाइल 1991 के खाड़ी युद्ध के दौरान चर्चा में आई. अमेरिका ने इराक युद्ध में इस मिसाइल का खूब इस्तेमाल किया था.

ये भी पढ़ें-

ट्रंप से मुलाकात के बाद अब उनके सबसे बड़े दुश्मन से मिले पीएम मोदी

जमाल खाशोगी के कत्‍ल की जवाबदेही मेरी- सऊदी के क्राउन प्रिंस बोले