लादेन को मारने में मदद करने वाले डॉक्टर को 2 मिनट में जेल से छुड़ाने का वादा भूल गए ट्रंप?

डॉक्टर शकील अफरीदी पर ओसामा बिन लादेन को ढूंढने में अमेरिका की मदद करने का आरोप है.
Shakil Afridi, लादेन को मारने में मदद करने वाले डॉक्टर को 2 मिनट में जेल से छुड़ाने का वादा भूल गए ट्रंप?

डॉक्टर शकील अफरीदी केस की आज पाकिस्तान के पेशावर हाई कोर्ट में सुनवाई होने वाली है. पाकिस्तान में यह पहली बार होगा जब इस मामले की सुनवाई ओपन कोर्ट में होगी. दरअसल, अमेरिका ने साल 2011 में अलकायदा प्रमुख ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था. डॉक्टर अफरीदी पर लादेन को ढूंढने में अमेरिका की मदद करने का आरोप है.

US ने PAK की आर्थिक सहायता में की कटौती 
डॉ अफरीदी हमेशा यह तर्क देते रहे हैं कि उन्हें निष्पक्ष सुनवाई का मौका नहीं मिला. डॉ अफरीदी की कैद से आक्रोश उभरकर सामने आया था. अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली आर्थिक सहायता में कटौती कर दी थी.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने साल 2016 के चुनाव प्रचार में डॉ अफरीदी को लेकर महत्वपूर्ण वादा किया था. राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था कि अगर वह चुनाव जीत गए तो वो डॉ अफरीदी को ‘दो मिनट’ में रिहा करवा देंगे. लेकिन ऐसा अब तक नहीं हुआ.

Shakil Afridi, लादेन को मारने में मदद करने वाले डॉक्टर को 2 मिनट में जेल से छुड़ाने का वादा भूल गए ट्रंप?

डॉ अफरीदी को गद्दार मानते हैं पाकिस्तानी
एक तरफ जहां डॉ शकील अफरीदी को अमेरिका में हीरो के तौर पर देखा जाता है, वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान में वो कई लोगों के लिए गद्दार हैं. कई पाकिस्तानियों का मानना है कि डॉ अफरीदी की वजह से पाकिस्तान की दुनिया भर में बेइज्जती हुई.

अमेरिकी सेना पाकिस्कान की सीमा में घुस आई. सेना ने 9/11 हमले के मास्टरमाइंड को जान से मार दिया और उसकी डेड बॉडी को अपने साथ लेकर चले गए. और पाकिस्तान को उस समय इसकी खबर तक नहीं लगी. पाकिस्तान की ओर से इसे किसी तरह की चुनौती नहीं दी गई.

इस घटनाक्रम के बाद अंतराष्ट्रीय स्तर पर कई सारे सवाल उठ खड़े हुई. इन सवालों का जवाब देना पाकिस्तान के लिए मुश्किल हो रहा था. सवाल था कि क्या पाकिस्तानी सेना को इस बात की खबर थी कि लादेन उनके देश में ही छिपा हुआ है?

कौन हैं डॉक्टर शकील अफरीदी?
शकील अफरीदी ने साल 1990 में पेशावर के खैबर मेडिकल कॉलेज से ग्रेजुएशन किया. वहीं, फेडरली एडमिनिस्ट्रेड ट्राइबल एरियास ऑफ पाकिस्तान के डॉक्टर इन चार्ज बने. अमेरिका ने ओसामा को मारने से पहले डॉ शकील अफरीदी को इस मिशन में शामिल कर लिया था.डॉ

डॉक्टर अफरीदी पर लगे हैं ये आरोप
अफरीदी को 23 मई 2012 को 33 साल की सजा सुनाई गई. अफरीदी को सुरक्षाबलों ने पाकिस्तान छोड़कर भागने की कोशिश के दौरान गिरफ्तार कर लिया. अफरीदी को लादेन की मारने वाले मिशन में शामिल होने के लिए राजद्रोह का दोषी माना गया है.

इसके साथ ही डॉ अफरीदी पर आतंकी संगठन लश्कर-ए-इस्लाम के प्रमुख मंगल बाघ से जुड़ा होने का भी केस चलाया गया. वहीं, नवंबर 2013 में उन पर एक बच्चे की मौत का दोषी माना गया. इस बच्चे की मौत 8 साल पहले अफरीदी के इलाज के दौरान हो गई थी.

ये भी पढ़ें-

नकारात्मक शक्तियों से भारत के राफेल की रक्षा करेगा नींबू, जानिए क्या कहता है ज्योतिष शास्त्र?

सरकार बनाने जा रही 1400 किलोमीटर लंबी ‘ग्रीन वॉल ऑफ इंडिया’, गुजरात से दिल्ली तक होगा निर्माण

यूपी का रहने वाला अल कायदा आतंकी उमर ढेर, PM मोदी को दी थी जान से मारने की धमकी

Related Posts