फर्जी पायलट लाइसेंस घोटाला: ICAO ने कहा- नए पायलटों को लाइसेंस न दे पाकिस्तान

फर्जी पायलट लाइसेंस मामले में पाकिस्तान (Pakistan) ने अपने 50 पायलट और पांच नागरिक उड्डयन अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक जांच शुरू की है, जिसेक बाद ICAO एजेंसी की ये सिफारिशें आई हैं.

  • TV9 Digital
  • Publish Date - 4:26 pm, Fri, 25 September 20
पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (FILE)

पाकिस्तान (Pakistan) में फर्जी पायलट लाइसेंस का मामला सामने आने के बाद अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (ICAO) ने पाकिस्तान को सलाह दी है कि वह किसी भी नए पायलट को जारी किया हुआ लाइसेंस तुरंत रद्द करे और मामले पर कार्रवाई करे. संयुक्त राष्ट्र (UN) की यह विशेष एजेंसी आईसीएओ अंतरराष्ट्रीय हवाई परिवहन की सुरक्षा पर काम करती है.

मालूम हो कि फर्जी पायलट लाइसेंस मामले में पाकिस्तान ने अपने 50 पायलट और पांच नागरिक उड्डयन अधिकारियों के खिलाफ आपराधिक जांच शुरू की है, जिसेक बाद एजेंसी की ये सिफारिशें आई हैं. इन सभी पांच अधिकारियों पर आरोप हैं कि इन सभी पायलट को गैर-कानूनी तरीके से लाइसेंस दिलाने में मदद की थी.

पिछले हफ्ते पाकिस्तान सिविल एविएशन अथॉरिटी (PCAA) को लिखे एक पत्र में ICAO ने कहा, “पाकिस्तान को अपने लाइसेंस सिस्टम को सुधारने और मजबूत करने के लिए सभी आवश्यक प्रक्रियाओं का ध्यान रखना होगा. साथ ही नए लाइसेंस जारी होने से पहले किसी भी गैरकानूनी काम को रोकना होगा.”

रॉयटर्स के मुताबिक, पाकिस्तानी विमानन मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि इस घोटाले के मद्देनजर देश ने जुलाई से कोई नया लाइसेंस जारी नहीं किया है.

ICAO करेगी पाकिस्तान के एयलाइन सिस्टम का ऑडिट

बता दें कि ICAO नवंबर में पाकिस्तान के विमानन सुरक्षा प्रबंधन सिस्टम का ऑडिट भी करने वाली थी, लेकिन उसे अब अगले साल जून तक के लिए आगे बढ़ा दिया है. एक अधिकारी ने बताया, “ICAO ऑडिट, जो इस साल नवंबर में होना था उसे अब जून तक के लिए आगे बढ़ा दिया गया, ताकि नए बदलावों को लागू करने के लिए PCAA को समय मिल सके.”

मालूम हो कि जून में कराची में 22 मई को पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) के विमान की दुर्घटना की प्रारंभिक रिपोर्ट नेशनल असेंबली के सामने रखते हुए  एविएशन मिनिस्टर गुलाम सरवर खान ने दावा किया था कि देश के 40 प्रतिशत पायलट के पास ‘नकली लाइसेंस’ हैं.

इस मुद्दे के बाद दुनिया के कई हवाई अड्डों, एयरलाइंस और एयर सेफ्टी एजेंसियों ने PIA के लाइसेंस को निलंबित कर दिया था. यह पाकिस्तान के लिए दुनियाभर में शर्मिंदगी का कारण बना और इसे वैश्विक विमानन उद्योग (Global Aviation Industry) का सबसे बड़ा घोटाला कहा गया. इस मामले में अब तक पाकिस्तान के 50 पायलटों के लाइसेंस रद्द कर दिए और 32 पायलटो को एक साल के निलंबित कर दिया गया है.

संदिग्ध लाइसेंसों के चलते 15 और पाकिस्तानी पायलट हुए सस्पेंड, ऐसे लोगों की संख्या हुई 93