G7 में PM मोदी से ‘कश्‍मीर प्‍लान’ समझेंगे ट्रंप, इमरान से रुकवाएंगे PAK सरजमीं पर आतंकवाद

G7 सम्‍मेलन में ट्रंप और प्रधानमंत्री मोदी की मुलाकात होगी. यह भी पता चला है कि ट्रंप और इमरान के बीच क्‍या बात होगी.

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप का कश्‍मीर मुद्दे में इंटरेस्‍ट बढ़ता दिख रहा है. G7 सम्‍मेलन में POTUS  ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मुलाकात होगी. इस मीटिंग में कश्‍मीर मुद्दे पर चर्चा की बात अमेरिका ने कही है.

G7 पर ब्रीफिंग के दौरान एक शीर्ष अमेरिकी अधिकारी ने कहा कि ट्रंप यह समझना चाहते हैं कि भारत ने कश्‍मीर के भविष्‍य के लिए क्‍या योजनाएं बनाई हैं. ANI के मुताबिक अधिकारी ने कहा, “POTUS डोनाल्‍ड ट्रंप, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से यह जानना चाहेंगे कि कश्‍मीर में तनाव कम करने की उनकी क्‍या योजना है.”

मंगलवार को पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से बात करने के बाद, ट्रंप ने फिर कश्‍मीर पर मध्‍यस्‍थता का प्रस्‍ताव दिया था. हालांकि इससे पहले वह बोले कि तनाव को भारत और पाकिस्‍तान द्विपक्षीय रूप से सुलझाएं. अमेरिकी अधिकारी ने यह भी बताया कि G7 में ट्रंप और इमरान के बीच क्‍या बात होगी.

उन्‍होंने कहा, “POTUS ट्रंप पाकिस्‍तान से LoC से सीमापार घुसपैठ रोकने पर बात करेंगे. PAK को भारत पर हमले कर चुके समूहों पर भी लगाम लगाने को कहा जाएगा.”

इमरान खान ने गुरुवार को कहा कि वह अब भारत के साथ बातचीत नहीं करना चाहते. उन्‍होंने न्यूयॉर्क टाइम्स से कहा, “उनसे (भारतीय अधिकारियों) से बात करने का कोई मतलब नहीं है. मेरा मतलब है, मैंने हर मुमकिन कोशिश की. लेकिन, दुर्भाग्यपूर्ण है कि आज जब पलटकर देखता हूं तो लगता है कि शांति और बातचीत के मेरे सभी प्रयासों को उन्होंने तुष्‍टीकरण के तौर पर लिया. हम इससे ज्यादा कुछ कर नहीं सकते.”

इमरान खान ने कहा, “जब दो परमाणु संपन्न देश आंखों में आंखें डालकर खड़े हों, तो इन हालात में कुछ भी हो सकता है. यह दुनिया के लिए चिंता का विषय होना चाहिए.” अमेरिका में भारतीय राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने इस बयान को खारिज कर दिया.

ये भी पढ़ें

ग्रीनलैंड खरीदने की बात पर फंसे ट्रंप, डेनमार्क ने फिरकी लेकर कहा- अमेरिका को खरीदने के लिए तैयार

जब दो परमाणु संपन्न देश आमने-सामने होंगे तो कुछ भी हो सकता है: इमरान खान