राष्ट्रपति ट्रंप ने अपनी शक्तियों का किया गलत इस्तेमाल, महाभियोग जांच में डाली बाधा: रिपोर्ट

ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की जांच करने वाली तीन समितियों के अध्यक्षों ने एक बयान में कहा, 'सबूत साफ बताते हैं कि राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने ऑफिस की शक्ति का उपयोग करते हुए यूक्रेन पर अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन की जांच कराने का आदेश देने के लिए दवाब बनाया था.

हाउस डेमोक्रेट्स द्वारा मंगलवार को जारी की गई 300-पेज की रिपोर्ट में दावा किया गया है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने ऑफिस का इस्तेमाल निजी राजनीतिक लाभ के लिए किया और साथ ही उन्होंने कांग्रेसनल जांच में भी बाधा डालने का प्रयास किया.

ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की जांच करने वाली तीन समितियों के अध्यक्षों ने एक बयान में कहा, ‘सबूत साफ बताते हैं कि राष्ट्रपति ट्रंप ने अपने ऑफिस की शक्ति का उपयोग करते हुए यूक्रेन पर अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी पूर्व उपराष्ट्रपति जो बिडेन की जांच कराने का आदेश देने के लिए दवाब बनाया था.

रिपोर्ट के मुताबिक “इन जांचों (पूर्व उपराष्ट्रपति के खिलाफ) को ट्रंप के 2020 के राष्ट्रपति चुनाव अभियान में लाभ प्राप्त करने के उद्देश्य से डिजाइन किया गया था.” रिपोर्ट का निष्कर्ष निकलता है कि ट्रंप ने यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की के साथ व्हाइट हाउस में बैठक करने और पूर्व उपराष्ट्रपति के खिलाफ जांच के लिए यूक्रेन को 391 मिलियन अमेरिकी डॉलर की सैन्य सहायता देने के लिए भी कहा था.

इस जांच का यह भी निष्कर्ष निकालता है कि राष्ट्रपति ट्रंप ने एजेंसियों और गवाहों को कांग्रेसनल सम्मनों की अनदेखी करने का आदेश देकर महाभियोग की जांच में बाधा डालने का “अभूतपूर्व प्रयास” भी किया. मालूम हो कि ट्रंप पर आरोप है कि उन्होंने 2020 में उनके संभावित प्रतिद्वंदियों की छवि बिगाड़ने के लिए कथित तौर पर यूक्रेन की सहायता ली है.

ये भी पढ़ें: महंगाई की मार झेल रहे पाकिस्तान ने किया कबूल, ‘भारत से व्यापार न करना पड़ रहा महंगा’