कुछ है जो बदल रहा..! मिलिए उत्तर कोरिया की तिलिस्मी महिला से

Share this on WhatsAppनयी दिल्ली वो अपने मन का मालिक है. जो चाहा उसे किया, चाहे वो किसी की नज़रों में गलत हो या सही. इन फ़िज़ूल की बातों से उसे फ़र्क़ भी नहीं पड़ता. यहां बात हो रही है अपनी तानाशाही के लिए विश्वविख्यात उत्तर कोरिया के किम जोंग उन की. ऐसी ही कुछ […]

नयी दिल्ली

वो अपने मन का मालिक है. जो चाहा उसे किया, चाहे वो किसी की नज़रों में गलत हो या सही. इन फ़िज़ूल की बातों से उसे फ़र्क़ भी नहीं पड़ता. यहां बात हो रही है अपनी तानाशाही के लिए विश्वविख्यात उत्तर कोरिया के किम जोंग उन की. ऐसी ही कुछ छवि उनकी पूरी दुनिया में बनी हुई है, पर कुछ है जो बदल रहा है. ये हम नहीं उत्तर कोरिया पर करीबी नज़र रखने वाले लोग कह रहे हैं. विशेषज्ञों की मानें तो किम जोंग उन इस समय अपनी छवि के प्रति थोड़ा संजीदा हो गए हैं. इसके पीछे कोई और नहीं बल्कि फर्स्ट वुमन री सोल ज़ू का हाथ माना जा रहा है. आइये जानते हैं कौन है ये तिलिस्मी महिला….

  • 29 वर्षीय री सोल ज़ू किम टु सुंग यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट हैं.
  •  साल 2005 में ज़ू ने एक अंतर्राष्ट्रीय स्पोर्ट इवेंट में साउथ कोरिया में बतौर चीयर लीडर भाग लिया था.
  •  रिपोर्ट्स की मानें तो किसी सार्वजनिक जगह में किम ने इन्हें देखा और उसके बाद शुरू हो गया मुलाकातों का दौर.
  •  सार्वजनिक तौर पर वर्ष 2012 में उत्तर कोरिया में एक पार्क के उद्घाटन के मौके पर जोंग के साथ ज़ू देखी गयीं. इसके बाद बयान आया कि वो इनकी पत्नी हैं.
  •  1974 के बाद ज़ू ऐसी पहली महिला हैं, जिन्हें फर्स्ट लेडी का दर्जा मिला.
  •  13 साल बाद जब ज़ू साउथ कोरिया गयीं तो चीयर लीडर की तरह नहीं बल्कि बतौर फर्स्ट लेडी के तौर पर गईं.
  •  चीन से म्यूजिक सीख चुकीं फर्स्ट लेडी काफी फैशनेबल मानी जाती हैं.
  •  रिपोर्ट्स के मुताबिक़ इनके तीन बच्चे हैं, पर नाम किसी को नहीं मालूम.
  • अभी भी इस बात की किसी को खबर नहीं है कि इनकी शादी कब हुई और कहां हुई.
  • हालांकि दुनिया को मैसेज देने के लिए ज़ू अब लोगों से काफी घुल-मिल रही हैं और सार्वजानिक कार्यक्रमों में नज़र आ रही हैं.