सुखोई सुपरजेट की इमरजेंसी लैंडिंग में मारे गए 41 यात्री, रूस ने सब्सिडी देकर बिकवाए थे विमान

रूस ने सुखोई सुपरजेट 100 को बेचने के लिए अपने यहां की एयरलाइंस को सब्सिडी भी दी थी.

नई दिल्‍ली: रूस के एक यात्री विमान को आग लगने की वजह से मॉस्‍को के शेरेमेट्येवो हवाईअड्डे पर इमरजेंसी लैंडिंग करनी पड़ी. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, हादसे में कम से कम 41 लोग मारे गए हैं. मृतकों में दो बच्चे और एक फ्लाइट अटेंडेंट भी हैं. घटना रविवार को मॉस्‍को के सबसे व्‍यस्‍त हवाई अड्डे पर हुई. सोशल मीडिया पर सामने आई फुटेज में दिख रहा है कि लपटों में घिरा सुखोई सुपरजेट 100 एयरक्राफ्ट लैंड कर रहा है. यात्री एक तरफ भागते दिख रहे हैं.

विमान से उठ रहे धुएं का गुबार कई सौ मीटर हवा में नजर आ रहा है.
विमान से उठ रहे धुएं का गुबार कई सौ मीटर हवा में नजर आ रहा है. (AP/PTI Photo)

मरमांस्क जा रहे विमान में कुल 78 लोग सवार थे. रूसी जांच समिति ने एक बयान में कहा है, “विमान में क्रू सदस्‍यों समेत कुल 78 लोग सवार थे. अभी तक मिली जानकारी के अनुसार, 37 लोग बचाए जा चुके हैं. 11 व्‍यक्ति घायल हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय की प्रमुख वेरोनिका स्क्वोर्तसोवा ने एक बयान में कहा कि छह घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जिनमें से तीन की हालत गंभीर है.

रूसी राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने पीड़ितों के प्रति संवेदनाएं प्रकट की हैं. प्रधानमंत्री दिमित्री मेदददेव ने हादसे की जांच के लिए विशेष समिति बनाने के आदेश दे दिए हैं. जांचकर्ताओं ने कहा कि वे अलग-अलग एंगल्‍स से जांच कर रहे हैं और हादसे की वजह के बारे में अभी कुछ कहना जल्‍दबाजी होगी.

रूस का पहला नागरिक विमान, पर नहीं मिले खरीदार

सुखोई सुपरजेट 100 सोवियत युग समाप्‍त होने के बाद रूस का पहला नागरिक एयरक्राफ्ट था. हालांकि इसे विदेशों में खरीदार नहीं मिले. जिन कंपनियों ने इसे खरीदा भी, उन्‍होंने इसका इस्‍तेमाल नहीं किया क्‍योंकि उन्‍हें इसपर भरोसा नहीं था. रूसी सरकार ने सुपरजेट खरीदने के लिए अपने देश की एयरलाइंस को सब्सिडी तक दी थी. 2012 में डेमो फ्लाइट के दौरान इंडोनेशिया में एक सुखोई सुपरजेट 100 सीधे एक पहाड़ से जा टकराया था. हादसे में सभी 45 लोग मारे गए थे.

ये भी पढ़ें

जैश से जुड़ा पाकिस्तानी-अमेरिकी शख्स गिरफ्तार, खाने और पैसे का करता था जुगाड़

दुबई में कुरान टीचर से करवाया जा रहा था क्लीनर का काम, बचकर आया तो सुषमा स्वराज को कहा शुक्रिया

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *