सिख सांसद की मांग, मुस्लिम महिलाओं को लेटर बॉक्स बताने वाले बयान पर माफी मांगें बोरिस जॉनसन

बोरिस जॉनसन ने साल 2018 में एक अखबार में आर्टिकल लिखा था, जिसमें उन्होंने मुस्लिम महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि बुर्का पहनी मुस्लिम महिलाएं किसी लेटरबॉक्स या बैंक लूटने वाले की तरह दिखाई देती हैं.

ब्रिटेन के पहले पगड़ीधारी सिख सांसद तनमनजीत सिंह धेसी ने बुधवार को ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन से मांग की कि वह अतीत में मुस्लिम महिलाओं के खिलाफ दिए नस्लवादी बयानों के लिए माफी मांगें. दरअसल पीएमक्यू (प्रधानमंत्री से सवालों) के दौरान तनमनजीत सिंह और बोरिस जॉनसन के बीच तीखी बहस हो गई थी. इस बहस का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि तनमनजीत सिंह ने कंजरवेटिव पार्टी के नेता और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को उनकी पुरानी स्पीच याद दिलाते हुए कहा कि वह अपने उन नस्लभेदी बयानों को लेकर माफी मांगें. तनमनजीत की इस बात को लेकर संसद में मौजूद कई सदस्यों ने तालियां बजाकर उनका उत्साहवर्धन किया और साथ भी दिया.

मालूम हो कि हाल ही ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बनने वाले कंजरवेटिव पार्टी के नेता बोरिस जॉनसन ने साल 2018 में एक अखबार में आर्टिकल लिखा था, जिसमें उन्होंने मुस्लिम महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया था. उन्होंने कहा था कि बुर्का पहनी मुस्लिम महिलाएं किसी लेटरबॉक्स या बैंक लूटने वाले की तरह दिखाई देती हैं.

ये भी पढ़ें: कांग्रेस को है कांग्रेस से खतरा, मंत्रियों और विधायकों को लेकर पार्टी नेता ने सोनिया-राहुल को लिखी चिट्ठी