श्रीलंका में बम धमाकों से तबाही, इन होटल्स, गिरिजाघरों को बनाया गया निशाना

कोलंबो के लग्‍जरी होटल- द सिनेमन गैंड किंग्‍सबरी और शांगरी-ला को भी निशाना बनाया गया.

श्रीलंका के लग्‍जरी होटल्‍स और गिरिजाघरों में धमाकों से 180 से ज्‍यादा लोगों के मारे जाने की खबर है. रिपोर्ट्स के अनुसार, लगभग तीन दर्जन विदेशी नागरिकों की मौत हुई है. लोग ईस्‍टर संडे के मौके पर प्रार्थना के लिए जुटे थे. धमाकों की जो तस्‍वीरें सोशल मीडिया पर सामने आ रही हैं, उनमें फर्श पर चारों तरफ खून बिखरा नजर आ रहा है. कई लोग खून में सने बाहर निकाले गए हैं. जिन जगहों पर धमाके हुए, वहां विदेशी पर्यटकों का आना-जाना लगा रहता है. अभी तक किसी आतंकी संगठन ने हमलों की जिम्मेदारी नहीं ली है. मुख्‍य रूप से बौद्ध धर्म वाले श्रीलंका में केवल 6 फीसदी कैथोलिक ईसाई हैं.

श्रीलंका में कहां-कहां हुए धमाके:

कोलंबो के लग्‍जरी होटल- द सिनेमन गैंड, किंग्‍सबरी और शांगरी-ला.
कोलंबो के उत्‍तर में, पश्चिमी तट पर स्थित नेगोम्‍बो का सेंट सेबेस्टियन चर्च.
कोलंबो के कोच्चिकडे इलाके का सेंट एंथनी चर्च. यह इलाका कोलंबो 13 के नाम से जाना जाता है.
श्रीलंका के ईस्‍टर्न प्रोविंस के प्रमुख शहर और राजधानी कोलंबो से 250 किलोमीटर पूर्व स्थित बट्टिकलोवा का जायन चर्च.
कोलंबो शहर के सबसे बड़े उपनगर, देहीवाला में भी धमाका किया गया.

Sri Lanka Blasts, श्रीलंका में बम धमाकों से तबाही, इन होटल्स, गिरिजाघरों को बनाया गया निशाना

रिपोर्ट्स के अनुसार, कोलंबो के सेंट एंथनी चर्च में सबसे पहले धमाका हुआ. फिर सेंट सेबेस्टियन में. इसके बाद बट्टिकलोवा के जायन चर्च में भी बम धमाके की खबर आई. बट्टिकलोवा अस्‍पताल के अधिकारियों ने एएफपी को बताया है कि धमाके के बाद 300 से ज्‍यादा लोगों को भर्ती कराया गया है. सेंट सेबेस्टियन चर्च ने फेसबुक पर चर्च में मची तबाही की तस्‍वीरें जारी कर लोगों से मदद मांगी है।

इस साल हुए बड़े हमले:

4 अप्रैल 2019: बुर्किना फासो के अरबिंदा में आतंकियों ने 62 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था.

15 मार्च: न्यूज़ीलैंड के क्राइस्टचर्च में एक आतंकी ने मस्जिद में घुसकर जुमे की नमाज़ अदा करने कर लोगों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी. इस हमले में 50 लोगों की मौत हुए थी और लगभग इतने ही घायल हुए थे.

14 फरवरी 2019: जम्‍मू कश्‍मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्‍मद के आत्‍मघाती हमलावर ने सीआरपीएफ के काफिले को निशाना बनाया था. इस आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान मारे गए थे.

4 फरवरी 2019: सोमालिया के मोगादिशु में राष्‍ट्रपति आवास के नजदीक और एक रेडियो स्‍टेशन को निशाना बनाकर धमाके किए गए. इस हमले की जिम्‍मेदारी अल-शबाब नाम के संगठन ने ली.

ये भी पढ़ें

श्रीलंका को दहलाने के पीछे कौन- मुस्लिम चरमपंथी संगठन या दुर्दांत LTTE की वापसी?

श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट, पढ़िए किसने क्या कहा

सीरियल बम धमाकों से दहला श्रीलंका