श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट पर बोले राष्ट्रपति सिरिसेना- सदमे में हूं मैं, पढ़िए किसने क्या कहा

श्रीलंकाई मंत्री हर्षा डी सिल्वा ने एक ट्वीट में कहा कि 'डिफेंस सेक्रेटरी और मैं कोच्चकाडे चर्च में हूं. हम शंगरी-ला और किंग्सबरी होटल में भी थे. बचाव अभियान जारी है. विदेशियों सहित कई लोगों के मारे जाने की खबर है.'
sri lanka church bomb blast, श्रीलंका में सीरियल ब्लास्ट पर बोले राष्ट्रपति सिरिसेना- सदमे में हूं मैं, पढ़िए किसने क्या कहा

कोलंबो: श्रीलंका में रविवार को तीन चर्च और होटलों को निशाना बनाकर किए गए छह विस्फोटों में 150 से अधिक लोग मारे गए जबकि 450 से ज्यादा घायल हो गए हैं.

ये घटना ऐसे समय हुई है जब ईसाई समुदाय ईस्टर मना रहा है. समाचार पत्र द डेली मिरर के मुताबिक, विस्फोट कोच्चिकाडे के कोटाहेना स्थित सेंट एंथनी चर्च (राजधानी कोलंबो से लगभग 50 किलोमीटर दूर) में, काटना के कटुवापिटिया स्थित सेंट सेबेस्टियन चर्च (कोलंबो से लगभग 50 किलोमीटर दूर) में और तीसरा बटीकालोआ के जियॉन चर्च (कोलंबो से लगभग 325 किलोमीटर दूर) में हुआ है.

अन्य तीन विस्फोट कोलंबो के फाइव-स्टार होटलों शंगरी-ला, सिनैमन ग्रैंड और किंग्सबरी में हुए हैं. बटीकालोआ टीचिंग हॉस्पिटल के मुताबिक, मृतकों में से 25 बटीकालोआ में मारे गए हैं. कोलंबो नेशनल हॉस्पिटल के सूत्रों ने बताया कि 450 से अधिक घायलों को भर्ती कराया गया है.

मंत्री हर्षा डी सिल्वा ने एक ट्वीट में कहा कि हमलों को लेकर एक आपात बैठक बुलाई गई है. उन्होंने कहा, “डिफेंस सेक्रेटरी और मैं कोच्चकाडे चर्च में हूं. हम शंगरी-ला और किंग्सबरी होटल में भी थे. बचाव अभियान जारी है. विदेशियों सहित कई लोगों के मारे जाने की खबर है.”

उन्होंने लोगों से शांत रहने और घरों के अंदर रहने की अपील की. बीबीसी ने कहा कि सोशल मीडिया पर तस्वीरों में सेंट सेबेस्टियन चर्च की छत टूटी हुई और बैठने की जगह खून से सनी नजर आ रही थी.

हमलों की जिम्मेदारी अभी तक किसी ने नहीं ली है.

किसने क्या कहा

इमरान ख़ान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने कहा, ‘ईस्टर के इस पवित्र मौक़े पर श्रीलंका में हुए इस ख़तरनाक आतंकी हमले की मैं पूरजोर निंदा करता हूं जिसमें सैकड़ों लोगों की जान चली गई. अपने पड़ोसी देश और श्रीलंकाई भाई-बहनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं. इस दुख की घड़ी में पाकिस्तान आपके साथ पूरी मज़बूती के साथ खड़ा है.

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद

भारत श्रीलंका में हुए आतंकी हमलों की निंदा करता है और देश के लोगों और सरकार प्रति संवेदना व्यक्त करता है. निर्दोष लोगों को निशाना बनाकर की गई इस तरह की संवेदनहीन हिंसा का सभ्य समाज में कोई स्थान नहीं है. हम श्रीलंका के साथ पूर्ण एकजुटता में खड़े हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर श्रीलंका में हुए बम धमाकों की निंदा करते हुए कहा, ‘श्रीलंका में हुए भीषण विस्फोटों की कड़ी निंदा करता हूं. हमारे क्षेत्र में इस तरह की बर्बरता के लिए कोई जगह नहीं है. भारत, श्रीलंका के लोगों के साथ एकजुटता के साथ खड़ा है. मैं शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना और घायलों के लिए प्रार्थना करता हूं.’

सुषमा स्वराज, विदेश मंत्री

विदेश मंत्री, सुषमा स्वराज ने कहा, ‘कोलंबो से एक अपडेट है। कोलंबो, नेगोंबो और बट्टीकोला में चर्चों में तीन बम विस्फोट हुए थे। कोलंबो के शांग-रीला,  सिनेमन ग्रांड होटल, किंग्सबरी होटलों में तीन धमाके हुए हैं।’

बिशम्बर दास, रक्षा विशेषज्ञ– 1991 के बाद से श्रीलंका ग्लोबल इंवेस्टमेंट सेक्टर बन गया है. पूरी दुनिया की निगाह श्रीलंका पर है. भारत को ऐसे समय में श्रीलंका की पूरी मदद करनी चाहिए. भारत में अभी चुनाव हो रहा है श्रीलंका में तमिल ठीक है, श्रीलंका की उभरती हुई समस्या पर ध्यान देना चाहिए. इसको भारत से जोड़ना ठीक नहीं होगा.

कर्नल शैलेंद्र सिंह– आतंकियों ने सही मौका ढूंढ़ा. उन्होंने ईस्टर का दिन चुना, रविवार का दिन था. पांच सितारा होटल में हमला करने की ख़ास वजह यह है कि वो पूरी दुनिया को दहशत का संदेश देना चाहते हैं. जब तक किसी देश में आतंकी घटना नहीं होती है वो उसके ख़िलाफ़ लड़ने की पहल नहीं करते हैं. मसूद अजहर के मामले में चीन बार बार रोड़े अटका रहा है. जब तक वहां भी आतंकी हमला नहीं होगा वो आतंक के विरोध में नहीं उतरेंगे.

भारत हर रोज़ आतंक के खिलाफ लड़ने की कोशिश कर रहा है लेकिन जब तक 136 देश एक साथ सामने नहीं आएगा दुनिया से आंतक को खत्म नहीं किया जा सकता.

श्रीलंका के राष्ट्रपति सिरिसेना का बयान- 
आतंकी हमले की वजह से सदमें में हूं. हमला पूरी तैयारी के साथ किया गया है. प्रधानमंत्री यात्रा पर थे लेकिन आतंकी हमले की वजह से लौट आए हैं. फिलहाल सेना के साथ बैठक की जा रही है.

सुषमा स्वराज-

श्रीलंका में हुए विस्फोटों की पूरी जानकारी को लेकर कोलंबो में भारतीय उच्चायुक्त के साथ लगातार संपर्क में हूं. हम स्थिति पर पूरी नजर बनाए हुए हैं.

रूवन गुनासेकेरा, पुलिस प्रवक्ता

यह विस्फोट स्थानीय समयानुसार आठ बजकर 45 मिनट पर ईस्टर प्रार्थना सभा के दौरान गिरजाघरों में हुआ. पुलिस ने बताया कि हमले में तीन गिरजाघरों- कोलंबो के सेंट एंथनी, पश्चिमी तटीय शहर नेगेम्बो के सेंट सेबैस्टियन चर्च और बाटिकालोआ के एक चर्च को निशाना बनाया गया है. तीन अन्य विस्फोट पंच सितारा होटलों-शंगरीला, द सिनामोन ग्रांड और द किंग्सबरी में हुआ.

मंत्री हर्षा डी सिल्वा

मंत्री हर्षा डी सिल्वा ने एक ट्वीट में कहा कि हमलों को लेकर एक आपात बैठक बुलाई गई है. उन्होंने कहा, “डिफेंस सेक्रेटरी और मैं कोच्चकाडे चर्च में हूं. हम शंगरी-ला और किंग्सबरी होटल में भी थे. बचाव अभियान जारी है. विदेशियों सहित कई लोगों के मारे जाने की खबर है.”

डॉक्टर समिंदि समराकून, कोलंबो नेशनल हॉस्पिटल के प्रवक्ता

300 से ज्यादा लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. कटुवापितियूत्या के सेंट सेबैस्टियन चर्च से किए गए एक फेसबुक पोस्ट में लिखा गया, ‘हमारे गिरजाघर पर बम हमला , कृपया आएं और मदद करें.

श्रीलंका स्थित भारतीय दूतावास

श्रीलंका में भारतीय दूतावास ने भारतीय नागरिकों के लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं. भारतीय दूतावास की ओर से ट्वीट किया गया है, जिसमें लिखा है ‘कोलंबो और बट्टीकालोआ में धमाके की खबरे हैं. हम स्थिति पर नजर रखे हुए हैं. मदद या किसी जानकरी के लिए भारतीय नागरिक इन नंबरों पर संपर्क कर सकते हैं: +94777903082 +94112422788 +94112422789. श्रीलंका के नंबरों के अलावा इन भारतीय नंबरों पर भी संपर्क कर सकते हैं: +94777902082 +94772234176 .

Related Posts