Trump ने करीबी स्टोन की सजा में किया बदलाव, डेमोक्रेट्स ने कहा- ये न्यायिक प्रकिया में दखल

ट्रंप (Trump) ने शुक्रवार को रोजर स्टोन (Roger Stone) को दी गई सजा में बदलाव किया है. वहीं दूसरी ओर डेमोक्रेट्स ने राष्ट्रपति ट्रंप (President Trump) के इस कदम की आलोचना करते हुए इसे न्यायिक व्यवस्था में हस्तक्षेप कहा है.
Trump commutes prison sentence of his Longtime adviser Roger Stone, Trump ने करीबी स्टोन की सजा में किया बदलाव, डेमोक्रेट्स ने कहा- ये न्यायिक प्रकिया में दखल

ट्रंप (President Trump) ने 2016 के अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव (US Presidential Elections 2016) के दौरान हस्तक्षेप की जांच करने वाले कानूनविदों के सामने झूठ बोलने और गवाहों को प्रभावित करने के मामले में दोषी ठहराए गए अपने दोस्त और सलाहकार रोजर स्टोन (Roger Stone) का बचाव किया है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

ट्रंप (Trump) ने शुक्रवार को रोजर स्टोन (Roger Stone) को दी गई सजा में बदलाव किया है. वहीं दूसरी ओर डेमोक्रेट्स ने राष्ट्रपति ट्रंप (President Trump) के इस कदम की आलोचना करते हुए इसे न्यायिक व्यवस्था में हस्तक्षेप कहा है. स्टोन को इस मामले में तीन साल 4 महीने की सजा हुई थी, मंगलवार को स्टोन को जेल प्रशासन को रिपोर्ट करना था.

व्हाइट हाउस ने बयान में ये कहा

व्हाइट हाउस (White House) की तरफ से जारी बयान में कहा है कि रोजर स्टोन (Roger Stone) को पहले ही काफी मुश्किल का सामना करना पड़ा है, उनके साथ गलत व्यवहार किया गया, क्योंकि इस मामले में कई व्यक्ति शामिल थे. रोजर स्टोन अब एक स्वतंत्र व्यक्ति हैं.

स्टोन से ट्रंप की पुरानी दोस्ती

67 साल के स्टोन को जियोर्जिया के जेसप में फेडरल जेल को मंगलवार को रिपोर्ट करना था. रोजर स्टोन (Roger Stone) से ट्रंप की दोस्ती दशकों पुरानी है. स्टोन ट्रंप के सहयोगियों में शामिल रहे हैं. उन पर विशेष वकील रॉबर्ट मूलर की जांच में कई आरोप लगाए गए थे जिसमें ट्रंप की उम्मीदवारी को मजबूत करने केलिए रूसी हस्तक्षेप का दस्तावेजीकरण भी शामिल है. स्टोन के बारे में अपना निर्णय देते हुए व्हाइट हाउस ने मूलर की जांच और स्टोन के खिलाफ केस करने वालों को निशाने पर लिया. व्हाइट हाउस ने कहा कि स्टोन रूस के झांसे का शिकार हुए हैं.

कोई मिलीभगत नहीं थी रूस के साथ

रूस के साथ ट्रंप कैंपेन या ट्रंप प्रशासन की कोई मिलीभगत नहीं है. चुनाव परिणाम को स्वीकार करने में असमर्थ पक्षपातियों की ये सिर्फ कल्पना के अलावा कुछ भी नहीं है. स्टोन की सजा में बदलाव करने के ट्रंप के फैसले ने आपराधिकमामले में एक सहयोगी की रक्षा करने और उसे लाभ पहुंचाने के लिए कार्यकारी क्षमादान से उनके हस्तक्षेपा का पता चलता है.

अमेरिका में न्याय की दो प्रणाली

हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव इंटेलिजेंस कमेटी के अध्यक्ष एडम शिफ ने ट्रम्प की कार्रवाई की निंदा करते हुए कहा कि इस एक्शन के बाद ट्रम्प स्पष्ट करते हैं कि अमेरिका में न्याय की दो प्रणालियां हैं. एक उनके आपराधिक दोस्तों के लिए और दूसरी सभी के लिए.

नवंबर 2019 में वाशिंगटन के एक निर्णायक मंडल ने स्टोन को सभी सात आपराधिक मामलों में कांग्रेस की जांच में बाधा डालने, कांग्रेस को गलत बयान देने और गवाह के साथ छेड़छाड़ करने के पांच मामलों में दोषी ठहराया था. व्हाइट हाउस ने स्टोन के लिए क्षमादान के फैसले की घोषणा की है.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts