US नेशनल स्पेलिंग बी: भारत का एकाधिकार खत्म, अलबामा की छात्रा संग 7 भारतीयों ने जीता खिताब

एक चैंपियन को चुनने के लिए 20 राउंड का फाइनल कराया गया, लेकिन सभी बच्चे बिल्कुल ठीक जवाब दे रहे थे, जिसके बाद सभी को संयुक्त रूप से चैंपियन चुना गया.

न्यूयॉर्क: भारतीय मूल के सात बच्चों को एक अमेरिकी के साथ यूएस नेशनल स्पेलिंग बी का सह-चैंपियन घोषित किया गया है. एक चैंपियन को चुनने के लिए 20 राउंड का फाइनल कराया गया, लेकिन सभी बच्चे बिल्कुल ठीक जवाब दे रहे थे, जिसके बाद सभी को संयुक्त रूप से चैंपियन चुना गया.

आठ सह-चैंपियन घोषित करने का अभूतपूर्व निर्णय गुरुवार रात को लिया गया. आयोजक उन्हें चुनौती देने के लिए और अधिक कठिन शब्दों का चयन नहीं कर सके. भारतीय मूल के बच्चों के 10 साल के एकाधिकार को अंतत: अलबामा की एक गैर-भारतीय लड़की एरिन हॉवर्ड ने एक सह-चैंपियन बनकर तोड़ दिया.

सात भारतीय मूल के विजेताओं में ऋषिक गंधासरी, साकेत सुंदर, श्रुतिका पधी, सोहम सुखतंकर, अभिजय कोडाली, क्रिस्टोफर सेराव और रोहन राजा शामिल हैं. प्रत्येक विजेता को 50,000 डॉलर और एक ट्रॉफी मिलेगी.

अमेरिका और विदेशों से आए 562 प्रतियोगियों को हरा कर सभी आठ बच्चों ने यह इनाम जीता है. अतीत में केवल दो सह-विजेता घोषित किए गए थे. हाल ही में 2014, 2015 और 2016 में भारतीय मूल के बच्चों ने यह रिकॉर्ड बनाया था.

ये भी पढ़ें: पीएम मोदी ने दूसरे कार्यकाल का किया आगाज, पहले फैसले में शहीदों के बच्चों की छात्रवृति बढ़ाई

ये भी पढ़ें: जासूसी के आरोप में पकड़ा गया पाकिस्तानी आर्मी जनरल, मिली उम्रकैद की सजा