South China Sea : ड्रैगन को सबक सिखाने के लिए अमेरिका ने भेजे युद्धपोत

दक्षिणी चीन समुद्र (South China Sea) 35 लाख वर्ग किलोमीटर का इलाका है जो प्रशांत महासागर में स्थित है. इसमें कई छोटे द्वीप समूह और प्राकृतिक संसाधनों का भंडार मौजूद है.
South China Sea, South China Sea  : ड्रैगन को सबक सिखाने के लिए अमेरिका ने भेजे युद्धपोत

दक्षिणी चीन समुद्र (South China Sea) इलाके में अमेरिका और चीन के बीच तनाव बढ़ता ही जा रहा है. हाल ही में चीन ने इस क्षेत्र में नौसेना अभ्यास शुरू किया जिसके जवाब में अब अमेरिका ने दो एयरक्राफ्ट करियर और 4 युद्धपोत  भेजे हैं जोकि सैन्य अभ्यास कर रहे हैं. अमेरिका के अभ्यास को चीन के लिए क्लियर मैसेज माना जा रहा है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

चीन को सबक सिखाने के लिए अमेरिका ने भेजे युद्धपोत

दरअसल दक्षिणी चीन समुद्र 35 लाख वर्ग किलोमीटर का इलाका है जो प्रशांत महासागर में स्थित है. इसमें कई छोटे द्वीप समूह और प्राकृतिक संसाधनों का भंडार मौजूद है जोकि व्यापारिक दृष्टि से काफी खास है. चीन इसके 90 फीसदी इलाके को ‘नाइन डैश लाइन’ के जरिए हथियाने की फिराक में है. वहीं South China Sea के कुछ हिस्सों में दावा करने वाले ब्रुनेई, मलेशिया, फिलीपींस, ताइवान और वियतनाम का चीन साथ विवाद चल रहा है.

चीन कोरोना महामारी के संकट के दौरान भी अपनी सैन्य ताकत का फायदा उठा रहा है और South China Sea इलाके पर दावा करने वाले देशों पर दादागिरी दिखा रहा है. इस इलाके के परासेल द्वीप समूह के पास चीन की नौसेना ने 1 जुलाई से युद्ध अभ्यास शुरू कर दिया है जोकि 5 जुलाई तक चलेगा. जबकि इस इलाके पर वियतनाम पहले से अपना दावा करता आया है.

चीन को सबक सिखाने के लिए अब अमेरिका ने भी अपने दो विमानवाहक युद्धपोत (USS रोनाल्ड रीगन, USS निमित्ज) और चार जंगी जहाज इस इलाके में भेजे हैं. अमेरिका का कहना है कि उसने ये कदम इसलिए उठाया है ताकि South China Se इलाके पर हर देश उड़ान भर सके और अंतरराष्‍ट्रीय नियमों के मुताबिक संचालन कर सके.

दोनों देशों के बीच पहले ही तनातनी

बता दें कि अमेरिका और चीन के बीच पहले से ही व्यापार को लेकर तनातनी है. कोरोना वायरस को लेकर भी दोनों देशों के बीच काफी कहासुनी हुई और अब ये मामला सामने आया है. इसके साथ ही अमेरिका ने फैसला लिया है कि वो यूरोप से अपनी सेनाओं को हटाकर चीन के आसपास तैनात करेगा.

देखिये परवाह देश की सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 10 बजे

Related Posts