‘हमें चीन की जरूरत नहीं’, डोनाल्‍ड ट्रंप ने इम्‍पोर्ट पर टैक्‍स बढ़ाया- ट्रेड वॉर तेज

चीन ने शुक्रवार को ऐलान किया था कि वह अमेरिका से इम्‍पोर्ट किए जाने वाले 75 अरब डॉलर के प्रोडक्‍ट्स पर 10% का टैक्‍स लगाएगा.

US राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने चीन से इम्‍पोर्ट होने वाले प्रोडक्‍ट्स पर टैक्‍स बढ़ा दिया है. अमेरिकी राष्‍ट्रपति का यह कदम बीजिंग के फैसले की प्रतिक्रिया है. चीन ने शुक्रवार को ऐलान किया था कि वह अमेरिका से इम्‍पोर्ट किए जाने वाले 75 अरब डॉलर के प्रोडक्‍ट्स पर 10% का टैक्‍स लगाएगा.

ट्रंप ने अमेरिकी कंपनियों से कहा कि वे चीन छोड़ दें. उन्‍होंने कहा कि ‘हमें चीन की जरूरत नहीं. हम उनके बिना बहुत बेहतर होंगे.’ ट्रेड वॉर की वजह से अमेरिका को नुकसान झेलना पड़ा है, साथ ही ग्‍लोबल इकॉनमी भी कमजोर हुई है. दुनियाभर के शेयर बाजारों की हालात भी खराब रही है.

डोनाल्‍ड ट्रंप प्रशासन ने 15 अगस्त को ऐलान किया था कि 300 अरब डॉलर के चाइनीज प्रोडक्‍ट्स पर 10% का एक्‍स्‍ट्रा टैक्‍स लगाया जाएगा. इसके जवाब में चीन ने अमेरिका में बने वाहनों और कलपुर्जों पर 5 प्रतिशत का अतिरिक्त शुल्क लागू करने की घोषणा की है.

चीनी प्रोडक्‍ट्स के इम्‍पोर्ट पर एक्‍स्‍ट्रा टैक्‍स

ट्रंप ने सिलसिलेवार ट्वीट में बीजिंग पर भड़ास निकाली. उन्‍होंने कहा, “कई साल तक चीन (और कई देश) व्‍यापार, इंटेलेक्‍चुअल प्रॉपर्टी की चोरी में अमेरिका का फायदा उठाते रहे हैं. हमारा देश हर साल चीन के हाथों सैकड़ों बिलियन डॉलर्स गंवाता रहा… कोई अंत नहीं दिखा.”

उन्‍होंने कहा, “दुख की बात है कि पिछले एडमिनिस्‍ट्रेटर्स ने चीन को ‘फेयर एंड बैलेंस्‍ड ट्रेड’ में इतना आगे जाने दिया कि वह अमेरिकन टैक्‍सपेयर्स के लिए बोझ बन गया है. एक राष्‍ट्रपति के रूप में, मैं ऐसा नहीं होने दे सकता. फेयर ट्रेड होगा तो इस व्‍यापारिक रिश्‍ते को बैलेंस कर होगा.”

फिर अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने ऐलान किया, “1 अक्‍टूबर से, चीन से आने वाले 250 बिलियन डॉलर के माल और उत्‍पादों पर 25% की जगह 30% टैक्‍स लगाया जाएगा. इसके अलावा बाकी 300 मिलियन डॉलर के चीनी उत्‍पाद, जिनपर 1 सितंबर से 10% टैक्‍स था, अब 15% टैक्‍स लगेगा.”

ये भी पढ़ें

अगर चीन और हॉन्ग-कॉन्ग बीफ खाना बंद कर दें तो नहीं लगेगी अमेजन के जंगलों में आग!

नई तस्वीरें बताती हैं समुद्र के अंदर गायब होता जा रहा है टाइटैनिक का मलबा