एपल पर गुस्सा हुए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, बोले- अपराधियों के फोन अनलॉक क्यों नहीं करते

राष्ट्रपति ट्रंप ने ट्वीट करके कहा है कि 'हम एपल के व्यापार में हमेशा मदद करते रहे हैं लेकिन कंपनी अपराधियों के मोबाइल फोन्स को अनलॉक करने से मना कर रही है.'

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने टेक कंपनी एपल पर अपने गुस्से का इजहार किया है. ट्रंप ने ट्वीट करके कहा है कि हम एपल के व्यापार में हमेशा मदद करते रहे हैं लेकिन कंपनी अपराधियों के मोबाइल फोन्स को अनलॉक करने से मना कर रही है.

राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा, “हम एपल की हमेशा व्यापार और अन्य तरह के मसलों में मदद करते रहे हैं. इसके बावजूद वो हत्यारों, ड्रग डीलर्स और अन्य आपराधिक गतिविधियों में शामिल लोगों के फोन्स अनलॉक करने से मना कर रहे हैं.”

उन्होंने आगे कहा कि ‘उन्हें (एपल) हमारे महान देश की मदद करने के लिए कोई योजना तैयार करनी चाहिए. एक बार फिर से अमेरिका को महान बनाइए.’


दूसरी तरफ, डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ ऐतिहासिक महाभियोग मुकदमा अगले सप्ताह मंगलवार से शुरू होगा. सीनेट के रिपब्लिकन बहुमत के नेता मिच मैककोनेल ने यह घोषणा की है.

इससे पहले मंगलवार (14 जनवरी) को स्पीकर नैन्सी पेलोसी ने सीनेट और डेमोक्रेटिक पार्टी के नियंत्रण वाली प्रतिनिधि सभा के बीच गतिरोध समाप्त किया था.

उन्होंने कहा था कि सदन अगले मंगलवार को महाभियोग के दस्तावेजों को ऊपरी सदन में भेजने के लिए मतदान करेगा ताकि वह इन आरोपों पर सुनवाई कर सके कि ट्रंप ने कांग्रेस को बाधित किया और राष्ट्रपति शक्तियों का दुरुपयोग किया.

ट्रंप अपने दो पूर्ववर्तियों 1998 में बिल क्लिंटन और 1868 में एंड्रयू जॉनसन की तरह बरी होने की उम्मीद कर सकते हैं क्योंकि उन्हें दोषी साबित करने और पद से हटाने के लिए दो-तिहाई बहुमत नहीं है.

मैककोनेल ने मंगलवार को संवाददाताओं को बताया कि अगले सप्ताह मंगलवार को औपचारिक शुरूआत से पहले ट्रायल के लिए तैयारियों के मद्देनजर जूरी सदस्यों के रूप में सीनेटरों के शपथ ग्रहण जैसी तैयारी इस सप्ताह शुरू हो सकती है.

ये भी पढ़ें-

बाज नहीं आ रहा चीन, सुरक्षा परिषद में फिर उठाया कश्मीर मुद्दा, आज होगी चर्चा

वाशिंगटन से 57 घंटे की देरी से चल रही एयर इंडिया की फ्लाइट, बुधवार शाम पहुंचेगी दिल्ली

Army Day: भारी बर्फबारी में फंसी गर्भवती महिला के लिए ‘भगवान’ बनी सेना, PM मोदी ने शेयर किया Video

Related Posts