ट्रंप ने रखा उत्तर कोरियाई धरती पर कदम, किम से की मुलाकात

पिछले साल जून में सिंगापुर में अपनी पहली ऐतिहासिक बैठक के दौरान ट्रंप और किम पहली बार आमने-सामने आए थे.
Donald Trump and Kim Jong, ट्रंप ने रखा उत्तर कोरियाई धरती पर कदम, किम से की मुलाकात

सियोल: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप रविवार को उत्तर कोरिया के सर्वोच्च नेता किम जोंग-उन के साथ द्विपक्षीय बातचीत करने से पहले उत्तर कोरिया की सरजमीं पर कदम रखने वाले पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बन गए. ट्रंप ने उत्तर और दक्षिण कोरिया को विभाजित करने वाले असैन्यीकृत क्षेत्र (डीएमजेड) में किम के साथ बैठक की. समाचार एजेंसी योनहप के मुताबिक, दक्षिण कोरिया की दो दिवसीय यात्रा पर आए ट्रंप सबसे पहले सैन्य सीमांकन रेखा (एमडीएल) की ओर बढ़े, जो पनमुनजोम गांव को अलग करती है, जिसे संयुक्त सुरक्षा क्षेत्र भी कहा जाता है. तभी किम आए और ट्रंप को साथ ले गए.

दोनों ने हाथ मिलाया और सीमा रेखा को एक साथ उत्तरी क्षेत्र में पार किया. दोनों ने दक्षिण कोरिया की ओर जाने से पहले तस्वीरों के लिए पोज दिए.

ट्रंप ने मीडिया से कहा, “दोनों कोरियाई देशों को बांटने वाली रेखा को पार करना उनके लिए सम्मान की बात है.”

जबकि किम ने इसे ‘एक ऐतिहासिक क्षण’ माना. उन्होंने कहा कि सीमा पार करने का फैसला उत्तर कोरिया-अमेरिका के एक नए भविष्य की ओर बढ़ने को प्रतिबंबित करता है.

दोनों के साथ बाद में दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जे-इन शामिल हो गए. फिर तीनों नेता दक्षिण कोरिया की सीमा में बने फ्रीडम हाउस की ओर बढ़ गए.

प्रेस के लिए किम और ट्रंप साथ बैठे और फिर बाद में निजी रूप से द्विपक्षीय वार्ता की.

ट्रंप ने डीएमजेड में उत्तर कोरियाई नेता से विदा लेते वक्त कहा, “हमने बस अभी चेयरमैन किम के साथ बहुत-बहुत अच्छी मुलाकात की.”

ट्रंप ने कहा कि टीमें अगले दो-तीन सप्ताहों में काम करना शुरू कर देंगी. अमेरिकी पक्ष का प्रतिनिधित्व उत्तर कोरिया के लिए अमेरिका के विशेष प्रतिनिधि स्टीफन बिगन करेंगे.

फरवरी में वियतनाम के हनोई में मुलाकात के बाद दोनों की यह पहली मुलाकात है. हनोई में दोनों नेताओं की मुलाकात बेनतीजा रही थी.

पिछले साल जून में सिंगापुर में अपनी पहली ऐतिहासिक बैठक के दौरान ट्रंप और किम पहली बार आमने-सामने आए थे.

ट्रंप ने किम को अमेरिका आने का निमंत्रण भी दिया, लेकिन फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि किम ने इसे स्वीकार किया है या नहीं.

अगर किम इसे स्वीकार कर लेते हैं तो यह पहली बार होगा, जब कोई उत्तर कोरियाई नेता अमेरिका का दौरा करेगा.

डीएमजेड में बैठक के बाद दोनों नेता दक्षिण कोरिया की सीमा में दाखिल हुए.

समाचार एजेंसी योनहप के अनुसार, इससे पहले अपने अमेरिकी समकक्ष के साथ यहां राष्ट्रपति आवास में संयुक्त संवाददाता सम्मेलन के दौरान दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जे-इन ने ट्रंप-किम बैठक की पुष्टि की थी.

Related Posts