डोनाल्ड ट्रंप के बदले सुर, अब बोले- भारत ने अपने लिए रोकी थी दवाई, नरेंद्र मोदी बहुत अच्छे नेता

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) ने फॉक्‍स न्‍यूज से बातचीत में कहा कि पीएम मोदी महान हैं और बहुत अच्‍छे हैं. भारत से अभी बहुत अच्‍छी चीजें आनी बाकी हैं.
President Donald Trump, डोनाल्ड ट्रंप के बदले सुर, अब बोले- भारत ने अपने लिए रोकी थी दवाई, नरेंद्र मोदी बहुत अच्छे नेता

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप (Donald Trump) ने कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर बीते दिनों भारत से मदद मांगी थी. ट्रंप ने इसे लेकर धमकी भरा एक बयान भी दिया था. लेकिन अब 24 घंटे में ही उनके सुर पूरी तरह से बदल गए हैं.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine) दवाई को लेकर राष्ट्रपति ट्रंप ने अब कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस मसले पर उनकी मदद की, वह काफी शानदार हैं. भारत ने अपने नागरिकों को बचाने के लिए दवा के निर्यात पर प्रतिबंध लगाया था.

अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने फॉक्‍स न्‍यूज से बातचीत में कहा कि कि पीएम मोदी महान हैं और बहुत अच्‍छे हैं. भारत से अभी बहुत अच्‍छी चीजें आनी बाकी हैं.

उन्‍होंने कहा, “अमेरिका ने कोरोना वायरस से जंग के लिए हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की 29 मिलियन डोज खरीदी है. इसमें से बड़ी तादाद में दवा भारत से आएगी.”

‘दवा के निर्यात से प्रतिबंध नहीं हटाया तो…’

इससे पहले ट्रंप ने संकेत दिया था कि अगर भारत ने हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा के निर्यात पर से प्रतिबंध नहीं हटाया तो अमेरिका कार्रवाई पर विचार कर सकता है.

व्‍हाइट हाउस में संवाददाताओं से बातचीत में ट्रंप ने मंगलवार को कहा था कि भारत ने अमेरिका के साथ बहुत अच्‍छा व्‍यवहार किया है और मैं समझता हूं कि इस बात के कोई कारण नहीं हैं कि भारत अमेरिकी दवा के ऑर्डर पर से बैन नहीं हटाएगा.

ट्रंप ने कहा, “मैंने रविवार सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की थी और मैंने कहा था कि अगर आप हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की आपूर्ति को मंजूरी देते हैं तो हम आपके इस कदम की सराहना करेंगे. अगर वह दवा की आपूर्ति की अनुमति नहीं देते हैं तो भी ठीक है, लेकिन हां, वे हमसे भी इसी तरह की प्रतिक्रिया की उम्मीद रखें.”

बता दें कि विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस मलेरिया-रोधी दवा को कोरोना संक्रमण निवारक दवा के रूप में उपयोग करने की सिफारिश की है. यह दवा स्वास्थ्य कार्यकर्ता, डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ को संक्रमण से बचाएगी.

दवा के निर्यात पर लगा आंशिक प्रतिबंध हटाया

मोदी सरकार ने इस दवा के निर्यात पर उस समय प्रतिबंध लगा दिया था, जब कोरोनो वायरस का प्रकोप भारत में फैलने लगा था.

साथ ही डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अमेरिका को घातक कोविड-19 बीमारी के खिलाफ लड़ाई में मदद करने के लिए दवा का निर्यात करने का अनुरोध किया था, जिसके बाद सरकार ने हाइड्रोक्सीक्लोरोक्विन के निर्यात पर लगा आंशिक प्रतिबंध हटाने का फैसला लिया.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts