मजे के लिए 400 लोगों को गोलियों से भूनना चाहती थी लड़की, पुलिस ने बेडरूम से बरामद की AK-47

विल्सन को स्कूल में चाकू लाने और फिर निजी सामानों पर स्वस्तिक का निशान बनाने के लिए निलंबित किया गया था. जिससे नाराज होकर उसने 400 लोगों को गोली मारने की इच्छा जताई थी.

एलेक्सिस विल्सन नाम की एक लड़की रविवार को ओक्लाहोमा के मैकएलेस्टर में स्थानीय पिज्जा इन शॉप पर दोपहर की शिफ्ट में काम कर रही थी, तभी उसने एक सहयोगी वेट्रेस को अपनी ओर खींचा और अपने आईफोन पर हाल ही में खरीदी गई AK-47 की वीडियो दिखाई. फिर 18 वर्षीय विल्सन ने बाकी वेट्रेस से उसके स्कूल के बारे में बातचीत करते हुए कहा कि वह “मजे के लिए 400 लोगों को गोली मारना चाहती है.”

इस बातचीत ने विल्सन के सहकर्मी को हिला कर रख दिया. जिसके बाद उसने इसकी सूचना एक मैनेजर को दी, जिसने मैकएलेस्टर पुलिस को फोन किया. पुलिस ने विल्सन को हिरासत में ले लिया. सोमवार को पिट्सबर्ग काउंटी शेरिफ ऑफिसर ने बताया कि विल्सन पर मैकलेस्टर हाई स्कूल के खिलाफ आतंकी धमकी देने का आरोप लगाया गया है.

पिट्सबर्ग काउंटी शेरिफ क्रिस मॉरिस ने कहा, “आज के समय में आप ऐसा कुछ भी नहीं कह सकते हैं, जैसा विल्सन ने कहा. हम इसे गंभीरता से लेने जा रहे हैं और इसकी पूरी जांच कर रहे हैं और यदि संभव हो तो गिरफ्तारी कर सकते हैं. क्योंकि हम नहीं चाहते कि हमारे किसी भी स्कूल पर गोलीबारी कर दी जाए.” सोमवार को सार्जेंट मीका स्टाइट्स और डिप्टी मैथ्यू जॉर्डन उस लड़की के घर गए. उन्होंने उसके बेडरूम से एक आईफोन, 6 मैग्जीन के साथ एक AK-47 और एक शॉटगन बरामद की.

जिस हाई स्कूल को लेकर उसने बातचीत की थी उसके एक अधिकारी ने बताया कि, एक बार स्कूल में चाकू लाने के लिए उसे निलंबित किया गया था जिसके बाद एक बार फिर उसे निजी सामानों पर स्वस्तिक का निशान बनाने के लिए निलंबित किया गया था. फेसबुक पर, विल्सन को 1999 के कोलंबिन हाई स्कूल नरसंहार के बारे में बनी डॉक्यूमेंटरी को भी लाइक करते हुए पाया गया.

ये भी पढ़ें: त्योहारों से पहले केंद्र सरकार ने दिया तोहफा, रेलवे कर्मचारियों को मिलेगा 78 दिन का बोनस