US President Donald Trump over trade, ट्रंप-मोदी रिश्ते का दिखने लगा असर, दोनों देशों के बीच जल्द होगा बड़ा व्यापारिक समझौता
US President Donald Trump over trade, ट्रंप-मोदी रिश्ते का दिखने लगा असर, दोनों देशों के बीच जल्द होगा बड़ा व्यापारिक समझौता

ट्रंप-मोदी रिश्ते का दिखने लगा असर, दोनों देशों के बीच जल्द होगा बड़ा व्यापारिक समझौता

गोखले ने कहा कि भारतीय कंपनियों भी अमेरिका में निवेश कर रही हैं और यह अमेरिका के साथ 'लेने और देने का एक सांकेतिक संबंध' है.
US President Donald Trump over trade, ट्रंप-मोदी रिश्ते का दिखने लगा असर, दोनों देशों के बीच जल्द होगा बड़ा व्यापारिक समझौता

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मंगलवार को कहा कि भारत और अमेरिका बहुत जल्द ही एक व्यापार समझौते पर पहुंचने वाले हैं और दोनों पक्षों की टीमें एक सीमित व्यापार पैकेज (लिमिटेड ट्रेड पैकेज) पर बातचीत कर रही हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता शुरू होने से पहले ट्रंप पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे. इस दौरान उनसे पूछा गया कि क्या व्यापार समझौता होने वाला है, इस पर उन्होंने कहा, “हां, मुझे लगता है बहुत जल्द.”

उन्होंने कहा, “हम बहुत अच्छा कर रहे हैं. अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि बॉब लाइटहाइजर यहां मौजूद हैं, वह भारत और उनके सक्षम प्रतिनिधियों के साथ समझौता कर रहे हैं. मुझे लगता है कि बहुत जल्द हम एक व्यापार समझौते पर पहुंच जाएंगे.”

उन्होंने यह बयान ऐसे समय दिया है जब भारत के वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल मंगलवार को लाइटहाइजर के साथ वार्ता करने के लिए न्यूयार्क में हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बयान पर विदेश सचिव विजय गोखले ने कहा कि भारत और अमेरिका ने अपने व्यापारिक मुद्दों को सही स्वरूप देने में ‘उल्लेखनीय प्रगति’ की है और दोनों पक्ष समझदारी या अनुबंध तक जल्द पहुंचने को लेकर काफी हद तक ‘आशान्वित’ हैं.

गोखले ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच द्विपक्षीय वार्ता के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि भारत और अमेरिका ने बीते तीन-चार वर्षो में व्यापार को बढ़ाने में महत्वपूर्ण प्रगति की है और व्यापार घाटे को भी कम किया है.

उन्होंने कहा कि वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल भी अमेरिकी व्यापार प्रतिनिधि बॉब लाइटहाइजर के साथ वार्ता करने के लिए न्यूयॉर्क में मौजूद थे और ‘कई मामलों में महत्वपूर्ण प्रगति हुई है.’

उन्होंने कहा, “लाइटहाइजर और गोयल दोनों ने वार्ता पर संतोष जताया है.”

विदेश सचिव ने कहा कि दोनों पक्ष ने किसी प्रकार के एक व्यापार समझौते पर पहुंचने को लेकर काफी आशान्वित हैं.

गोखले ने कहा कि भारतीय कंपनियों भी अमेरिका में निवेश कर रही हैं और यह अमेरिका के साथ ‘लेने और देने का एक सांकेतिक संबंध’ है.

उन्होंने कहा, “हमने इस संबंध में महत्वपूर्ण प्रगति की है और पूर्ण विश्वास है कि हम भविष्य में निश्चित ही इस क्षेत्र में आगे बढ़ेंगे.”

इससे पहले ट्रंप ने कहा था कि उनके और मोदी के पास चर्चा के लिए कई मुद्दे हैं. इनमें से एक और संभवत: सबसे बड़ा मुद्दा व्यापार का है. हमें साथ मिलकर बहुत सारे व्यापार करने हैं और हम उस पर काम कर रहे हैं.

वहीं प्रधानमंत्री मोदी ने अपने बयान में कहा कि जहां तक व्यापार का सवाल है, वह शनिवार को ह्यूस्टन में पेट्रोनेट और टेल्यूरियन के बीच 2.5 अरब डॉलर के समझौते से खुश हैं.

उन्होंने (मोदी ने) कहा, “समझौते से 60 अरब डॉलर का व्यापार होगा और 50,000 नौकरियों का सृजन होगा. मैं समझता हूं कि यह भारत की ओर से की गई एक बड़ी पहल है.”

US President Donald Trump over trade, ट्रंप-मोदी रिश्ते का दिखने लगा असर, दोनों देशों के बीच जल्द होगा बड़ा व्यापारिक समझौता
US President Donald Trump over trade, ट्रंप-मोदी रिश्ते का दिखने लगा असर, दोनों देशों के बीच जल्द होगा बड़ा व्यापारिक समझौता

Related Posts

US President Donald Trump over trade, ट्रंप-मोदी रिश्ते का दिखने लगा असर, दोनों देशों के बीच जल्द होगा बड़ा व्यापारिक समझौता
US President Donald Trump over trade, ट्रंप-मोदी रिश्ते का दिखने लगा असर, दोनों देशों के बीच जल्द होगा बड़ा व्यापारिक समझौता