अपने कर्मचारियों को 26 हफ्ते की पेरेंटल लीव देगा जोमैटो, नहीं काटेगा एक भी पैसा

जोमैटो संस्थापक ने लिखा कि नए बच्चे का इस दुनिया में स्वागत करने को लेकर महिला और पुरुषों के लिए छुट्टियों की अलग-अलग व्यवस्था बहुत असंतुलित है.
Zomato, अपने कर्मचारियों को 26 हफ्ते की पेरेंटल लीव देगा जोमैटो, नहीं काटेगा एक भी पैसा

नई दिल्ली: ऑनलाइन ऑडरिंग और फुड डिलिवरी प्लेटफार्म जोमैटो ने पेरेंट्स बनने वाले अपने कर्मचारियों को 26 हफ्ते की पेड छुट्टी देने की घोषणा की है. ये कदम न्यू पैरेंटल पॉलिसी के तहत उठाया गया है. जोमैटो के संस्थापक और सीईओ दीपेंद्र गोयल ने सोमवार को एक ब्लॉग लिखकर इस बात की जानकारी दी.

पेरेंट्स को 69,262 रुपये की सहायता राशि भी
उन्होंने लिखा, “परिवार की देखभाल के लिए कर्मचारियों को लचीलापन प्रदान करने और सशक्त करने के लिए कंपनी नए अभिभावकों को हर बच्चे के लिए 1,000 डॉलर (करीब 69,262 रुपये) की एकमुश्त सहायता राशि भी देगी ताकि वह अपने नए बच्चे का इस दुनिया में स्वागत कर सकें.”

जोमैटो संस्थापक ने लिखा, “मुझे लगता है कि नए बच्चे का इस दुनिया में स्वागत करने को लेकर महिला और पुरुषों के लिए छुट्टियों की अलग-अलग व्यवस्था बहुत असंतुलित है.”

पुरुषों को भी मिलेगी ये सुविधा
उन्होंने कहा कि सरकार के नियमानुसार हम दुनियाभर में अपनी महिला कर्मचारियों को 26 हफ्ते का वेतनशुदा मातृत्व अवकाश दे रहे हैं. हम अपने पुरुष कर्मचारियों को भी यही सुविधा प्रदान करेंगे. उन्होंने कहा इतना ही नहीं, यह योजना नए बच्चे को जन्म देने वाले अभिभावकों के अलावा सेरोगेसी, गोद लेने या समान लिंग के जीवनसाथियों के अभिभावक बनने वालों को भी उपलब्ध होगी.

100 नए शहरों में विस्तार की घोषणा
दूसरी तरफ, जोमैटो ने सोमवार को देश के 100 नए शहरों में विस्तार की घोषणा की है और इसके साथ ही कंपनी की सेवाएं 300 शहरों में उपलब्ध हो गई है. कंपनी ने एक नए बयान में कहा कि जोमैटो की सेवाएं जिन नए शहरों में शुरू की गई है, उनमें भुज, जूनागढ़, ऋषिकेश, शिमला, अयोध्या और बेगुसराय समेत अन्य शामिल हैं.

जोमैटो के मुख्य कार्यकारी अधिकारी फुड डिलिवरी मोहित गुप्ता ने कहा, “अपने विस्तार के साथ ही हम अपने औसत डिलिवरी समय में सुधार पर भी ध्यान दे रहे हैं, जो अब 30.5 मिनट है. विस्तार के चरण में पंजाब और आंध्र प्रदेश सबसे सक्रिय राज्य रहे, जहां सबसे अधिक संख्या में लांच किए गए.”

ये भी पढ़ें-

‘जय श्रीराम’ का विरोध करने वाले हैं हिंदुओं के दुश्मन, मिजोरम राज्यपाल का बयान

ममता सरकार के लोगो पर लिख दिया ‘राम’ नाम

केजरीवाल की महिलाओं के लिए फ्री मेट्रो यात्रा की सौगात यूं पड़ सकती है फीकी

Related Posts