इंडोनेशिया में भूकंप से कांपी धरती, सुनामी की चेतावनी जारी

जीओ फिजिक्‍स एजेंसी ने बताया कि पहली लहर ज्‍यादा ऊंची न हो लेकिन उसके बाद आने वाली लहरें घातक हो सकती हैं.

जकार्ता: इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप पर शुक्रवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए. रिक्टर स्केल पर इसकी तीव्रता 6.8 मापी गई है.

बता दें कि भूकंपीय रूप से सक्रिय प्रशांत ‘रिंग ऑफ फायर’ पर स्थित होने के कारण इंडोनेशिया को भूकंप और ज्वालामुखी विस्फोट के लिहाज से काफी खतरनाक माना जाता है. गौरतलब है कि पिछले साल सितंबर में ही सुलेवासी में ही भूकंप और सुनामी की वजह से 4000 लोगों की जान चली गई थी. इसका सबसे ज्‍यादा असर पालू शहर पर पड़ा था.

हालांकि इसमें जान-माल के नुकसान की कोई तत्काल रिपोर्ट नहीं मिली.

भूकंप का केंद्र शहर से दूर पालू में दर्ज किया गया. यहां सितंबर 2018 में सुनामी और भूकंप से बहुत ज्यादा तबाही हुई थी. जीओ फिजिक्‍स एजेंसी के प्रवक्‍ता के मुताबिक, इस भूकंप से सुनामी आने की आशंका है.

शाम 5.10 बजे (भारतीय समय के अनुसार) एक जोरदार भूकंप के साथ धरती कांप उठी. भूकंप के बाद इंडोनेशिया ने सुनामी की चेतावनी जारी की है. आपदा प्रबंधन विभाग ने सेंट्रल सुलेवासी के मोरोवली में लोगों से इलाका खाली करने के लिए कहा है.

भूकंप का केंद्र जमीन से 17 किलोमीटर की गहराई में बेंगई द्वीप से 85 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की ओर बताया जा रहा है. एजेंसी समुद्री लहरों पर नजर बनाए हुए है. एजेंसी ने बताया कि पहली लहर ज्‍यादा ऊंची न हो लेकिन उसके बाद आने वाली लहरें घातक हो सकती हैं.

इस भूकंप की वजह से यदि सुनामी आती है तो इंडोनेशिया के मेटेनडॉक, पेलंग द्वीप, इनोबू, कंडारी और बेंगई, पालू, मोरोवली, डोंगी, कालोनोडाल, में बड़ा नुकसान हो सकता है. फिलहाल भारत के लिए राहत की खबर है सुनामी की लहरें भारत तक पहुंचने की संभावना बहुत कम है. एजेंसियों ने सुनामी की लहरों के पपुआ और ऑस्‍ट्रेलिया तक जाने की आशंका जताई गई है.