हम नहीं कर सकते कोरोना वायरस का इलाज, वुहान में ही रहें पाकिस्तानी छात्र: PAK राजदूत

पाकिस्तानी राजदूत ने कहा कि चीन के वुहान में कुछ छात्र खाने की कमी और कुछ अन्य समस्याओं को लेकर परेशान थे.
Pakistani students in wuhan, हम नहीं कर सकते कोरोना वायरस का इलाज, वुहान में ही रहें पाकिस्तानी छात्र: PAK राजदूत

पाकिस्तानी छात्र चीन में फैले कोरोना वायरस के बीच फंसे हुए हैं. वो लगातार मदद की गुहार लगा रहे हैं. इस बीच रविवार को चीन में पाकिस्तानी राजदूत नगमाना हाशमी ने कहा है कि कोराना से प्रभावित वुहान से पाकिस्तानी छात्रों को नहीं निकालना चाहिए.

उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से इलाज के लिए पाकिस्तान में जरूरी मेडिकल संसाधनों की कमी है.

पाकिस्तानी राजदूत ने जियो न्यूज से बात करते हुए कहा कि वुहान से पाकिस्तानी छात्रों को निकाला जाना संभव नहीं है. उन्होंने कहा कि चीन के पास कोराना के इलाज की बेहतर सुविधाएं मौजूद हैं.

हाशमी ने कहा कि वुहान में कुछ छात्र खाने की कमी और कुछ अन्य समस्याओं को लेकर परेशान थे. पाकिस्तानी दूतावास को इस बारे में जानकारी मिली है और इसे लेकर हम चीनी प्रशासन से लगातार संपर्क में हैं.

उन्होंने कहा, “मैं अपने नागरिकों को इस बात के लिए सुनिश्चित कराना चाहती हूं कि पाकिस्तानी दूतावास और चीनी सरकार समस्याओं को हल करने में मिलकर काम कर रहे हैं. फिलहाल प्रभावित इलाके में किसी के जाने की इजाजत नहीं है.”

उन्होंने कहा कि जैसे ही प्रतिबंध हटेंगे, हम अपने देश के लोगों के साथ सबसे पहले खड़े होंगे.

पाकिस्तान के एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने शनिवार को इस्लामाबाद में बताया था कि सरकार वुहान से छात्रों को वापस नहीं बुलाएगी. हालांकि उन्होंने यह भी बताया था कि कई पाकिस्तानी छात्रों ने उन्हें वहां से निकाले जाने की अपील की है.

दूसरी तरफ, कोरोना वायरस महामारी के केंद्र चीन के वुहान शहर में फंसे भारतीयों को स्वदेश लाने का काम पूरा हो गया है. दो चरणों में करीब 650 लोगों को सुरक्षित भारत लाया गया है.
भारतीय विमान से रविवार को चीन से 323 भारतीयों के साथ मालदीव के सात नागरिकों को भी भारत लाया गया. इससे पहले शनिवार को भी एयर इंडिया बोइंग 747 विमान से 324 भारतीयों को स्वेदश लाया गया था.

अपने ट्वीट में विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा कि भारत, भारतीय नागरिकों के साथ मालदीव को सात नागरिकों को भी लेकर आया है, क्योंकि भारत अपने पड़ोसियों की चिंता करता है.

ये भी पढ़ें-

Corona Virus Latest Update: चीन में 14,000 से ज्यादा लोग कोरोना वायरस की चपेट में, 304 की हुई मौत

Corona virus : भारत ने रद्द किया e visa, दुनियाभर में बढ़ रही चीनी नागरिकों की मुश्किलें

Related Posts