Coronavirus: साउथ अफ्रीका में मंत्री ने तोड़ा Lockdown, नाराज राष्ट्रपति ने ‘स्पेशल लीव’ पर भेजा

लॉकडाउन (Lockdown) के नियम का उल्लंघन करने के लिए संचार मंत्री नडेबेनी अब्राहम (Ndabeni-Abrahams) ने ट्विटर पर वीडियो पोस्ट के जरिए माफी मांगी है. दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस (CoronaVirus) के प्रकोप को रोकने के लिए 27 मार्च से 21 दिनों का लॉकडाउन लागू किया गया था.
Minister sent on special leave, Coronavirus: साउथ अफ्रीका में मंत्री ने तोड़ा Lockdown, नाराज राष्ट्रपति ने ‘स्पेशल लीव’ पर भेजा

दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के राष्ट्रपति सिरिल रामाफोसा (Cyril Ramaphosa) ने संचार मंत्री नडीबेनी अब्राहम (Ndabeni-Abrahams) पर कड़ी कार्रवाई की. अब्राहम पर यह कार्रवाई सोशल मीडिया पर आई उनकी एक तस्वीर के बाद लॉकडाउन (Lockdown) के नियमों को तोड़ने की गलती की वजह से की गई.

राष्ट्रपति ने संचार मंत्री को एक पूर्व अधिकारी के साथ लंच करने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन के नियम का उल्लंघन करने का दोषी पाया. इसको लेकर उन्हें दो महीने की ‘स्पेशल लीव’ पर भेज दिया गया है. साथ ही उनके एक महीने का वेतन भी काट दिया गया है.

देखिये #अड़ी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर शाम 6 बजे

लॉकडाउन के नियम का उल्लंघन करने के लिए संचार मंत्री नडेबेनी अब्राहम ने ट्विटर पर वीडियो पोस्ट के जरिए माफी मांगी है. उन्होंने कहा, “कोविड-19 (Covid-19) के प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के नियम को तोड़ने के लिए मैं माफी मांगना चाहूंगी. मुझे इस घटना पर खेद है.”

नडेबेनी अब्राहम उच्च मांग वाले स्पेक्ट्रम के लाइसेंस सहित दूरसंचार क्षेत्र में डाटा की कीमतें कम करने और नीतियों में निश्चितता बढ़ाने के लिए सरकारी प्रयासों का नेतृत्व कर रही हैं.

दक्षिण अफ्रीका में भी 21 दिनों का लॉकडाउन

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस (CoronaVirus) के प्रकोप को रोकने के लिए 27 मार्च से 21 दिनों का लॉकडाउन लागू किया गया है जिससे लोग अपने घरों में बंद है. नियमों के अनुसार लोगों को केवल भोजन खरीदने या चिकित्सा सहायता लेने जैसे जरूरी कामों के लिए ही अपने घरों से निकलने की अनुमति है.

कानून है सबसे ऊपर

कुछ दिनों पहले वहां लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन करने वाले 17,000 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार भी किया जा चुका है. राष्ट्रपति रामाफोसा के प्रवक्ता खुसेला साइको (Khusela Diko) ने बताया कि राष्ट्रपति की नजर में मंत्री सहित कोई भी कानून से ऊपर नहीं है. राष्ट्रपति का मानना है कि हम में से किसी को भी इस गंभीर स्थिति में जान बचाने के हमारे राष्ट्रीय प्रयासों को कमतर नहीं आंकना चाहिए.

न्यूजीलैंड के मंत्री भी तोड़ चुके हैं लॉकडाउन

आपको बता दें कि लॉकडाउन के नियमों को तोड़ने वाली वह पहली सरकारी मंत्री नहीं है. न्यूजीलैंड (New Zealand) के स्वास्थ्य मंत्री डेविड क्लार्क (David Clark) ने भी लॉकडाउन के नियमों को तोड़ा था.  स्वास्थ्य मंत्री क्लार्क अपने परिवार के साथ कार ड्राइव करते हुए समुद्र तट पर पहुंच गए थे जो लॉकडाउन का सीधा उल्लंघन है. इसके लिए न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री (Prime Minister) ने उनका डिमोशन कर दिया था. प्रधानमंत्री ने उन्हें उनके पद से तो नहीं हटाया, लेकिन उनकी कैबिनेट रैंकिंग कम कर दी है. हालांकि डेविड ने अपनी गलती स्वीकार कर खुद को ‘इडियट’ यानि मूर्ख की संज्ञा दे डाली थी.

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना संक्रमण के मामले

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना वायरस (CoronaVirus) से 1,845 संक्रमित मामलों और 18 मौतों के साथ पूरे अफ्रीका में सबसे ज्यादा मामले हैं. सरकार का मानना है कि यह संख्या अभी और बढ़ सकती है. इसी को देखते हुए उन्होंने एक बड़े पैमाने पर परीक्षण अभियान शुरू किया है.

वायरस के परीक्षण के लिए डरबन में स्थित सेंट ऑगस्टाइन (St Augustine) अस्पताल में तैनात कर्मचारियों में से 48 कर्मचारी कोरोनावायरस से संक्रमित पाए गए थे. प्रांतीय स्वास्थ्य अधिकारी नोमगुगु सिमलेन-ज़ुलु (Nomagugu Simelane-Zulu) ने कहा कि इस बात की जांच की जाएगी कि सेंट ऑगस्टाइन में कितने लोग संक्रमित हुए थे. उन्होंने बताया कि देश की कुल मौतों में से 5 मौत अस्पताल में हुई थीं.

स्वास्थ्य अधिकारियों ने मास्क जैसे उपकरणों की कमी को पूरा करने के लिए सरकार  से जरूरी कदम उठाने के लिए कहा है. दक्षिण अफ्रीकी एयरवेज स्टेट एयरलाइन (State airline South African Airways) ने बुधवार को कहा कि वह कोविड-19 परीक्षण के लिए जरूरी चिकित्सा उपकरणों की आपूर्ति के लिए कार्गो की उड़ानों का संचालन कर रही है.

देखिये फिक्र आपकी सोमवार से शुक्रवार टीवी 9 भारतवर्ष पर हर रात 9 बजे

Related Posts